WFI अध्यक्ष के खिलाफ पहलवानों के धरने का दूसरा दिन: विनेश और साक्षी का बृजभूषण पर यौन उत्पीड़न का आरोप, खेल मंत्रालय ने जवाब मांगा


  • Hindi News
  • National
  • Bajrang Punia Sakshi Malik Vinesh Phogat; WFI Wrestlers Protest At Delhi Jantar Mantar

नई दिल्लीएक घंटा पहले

भारतीय रेसलर विनेश फोगाट और साक्षी मलिक ने बुधवार को रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (WFI) के प्रेसिडेंट बृजभूषण शरण सिंह पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था। उनके साथ करीब 20 रेसलर दिल्ली के जंतर मंतर पर बैठे थे। गुरुवार को वे फिर से अपना धरना शुरू करेंगे।

खेल मंत्रालय ने कुश्ती संघ से 72 घंटे के अंदर जवाब मांगा है। ऐसा नहीं करने पर कुश्ती संघ के खिलाफ कार्रवाई होगी। मंत्रालय ने अगले आदेश तक लखनऊ में महिला रेसलिंग कैंप भी रद्द कर दिया है। इन सब के बीच, इंटरनेशनल रेसलर दिव्या काकरान ने वीडियो पोस्ट कर बृजभूषण शरण का सपोर्ट किया है।

खिलाड़ियों ने धरने में क्या-क्या आरोप लगाएं, सिलसिलेवार पढ़ें…
विनेश फोगाट ने बुधवार को धरने में कहा था- नेशनल कैम्प्स में वुमन रेसलर्स का प्रेसिडेंट बृजभूषण शरण सिंह और कोच यौन उत्पीड़न करते हैं। नेशनल कैम्प्स में पोस्टेड कुछ कोच तो वुमन रेसलर्स का सालों से यौन उत्पीड़न करते आ रहे हैं। कई महिला पहलवानों ने इसकी शिकायत भी की।

बजरंग पूनिया ने कहा था कि हमारा विरोध WFI और जिस तरह वे पहलवानों के हितों को ध्यान में रखे बिना काम कर रहे हैं उसके खिलाफ है। इसका राजनीति से कुछ भी लेना-देना नहीं है। अध्यक्ष को इस्तीफा देना चाहिए। हम प्रधानमंत्री और गृहमंत्री से सीधे बात करेंगे।

WFI अध्यक्ष बोले- आरोप सही तो फांसी पर लटक जाऊंगा
इधर, WFI के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने कहा था- विनेश फोगाट के आरोप बेबुनियाद हैं। उनके पास आरोपों का कोई सबूत नहीं है। कोई पीड़ित है तो सबूत के साथ मेरे सामने आए। आरोप सही हुए तो फांसी पर लटक जाउंगा।

महिला आयोग का खेल मंत्रालय और दिल्ली पुलिस को नोटिस
महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाती मालीमाल धरने पर बैठे खिलाड़ियों से मिली थीं और उन्होंने खेल मंत्रालय और दिल्ली पुलिस को नोटिस दिया। उन्होंने WFI के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह की गिरफ्तारी की मांग करते हुए कहा था- यह बड़े शर्म की बात है कि हमारे देश के लिए मेडल लाने वाली शेरनियां सड़क पर धरने पर बैठी हैं।

ये फोटो बुधवार के धरने का है। इसमें अंशु मलिक (बाएं से पहली), सत्यवृत काद्यान साक्षी मलिक के पति (अंशु के पीछे), अमित धनखड़ (झंडा पकड़कर नीचे मुंह किए हुए), धनखड़ के आगे विनेश फोगाट (सफेद हुडी), विनेश के आगे सोनम मलिक (सफेद हुडी), विनेश के दाएं साक्षी मलिक, साक्षी के पीछे सुजीत मान (बजरंग के कोच, झंडा पकड़े हुए), साक्षी के सामने सरिता मौर्य (गुलाबी हुडी में), सुजीत मान के बगल में जीतेंदर झंडे के पीछे, सुमित (ब्लैक हूडी में), बजरंग पूनिया (एक हाथ से झंडा पकड़े हुए दाएं से पहले), बजरंग के आगे उनकी पत्नी संगीता फोगाट।

ये फोटो बुधवार के धरने का है। इसमें अंशु मलिक (बाएं से पहली), सत्यवृत काद्यान साक्षी मलिक के पति (अंशु के पीछे), अमित धनखड़ (झंडा पकड़कर नीचे मुंह किए हुए), धनखड़ के आगे विनेश फोगाट (सफेद हुडी), विनेश के आगे सोनम मलिक (सफेद हुडी), विनेश के दाएं साक्षी मलिक, साक्षी के पीछे सुजीत मान (बजरंग के कोच, झंडा पकड़े हुए), साक्षी के सामने सरिता मौर्य (गुलाबी हुडी में), सुजीत मान के बगल में जीतेंदर झंडे के पीछे, सुमित (ब्लैक हूडी में), बजरंग पूनिया (एक हाथ से झंडा पकड़े हुए दाएं से पहले), बजरंग के आगे उनकी पत्नी संगीता फोगाट।

विनेश का आरोप- मुझे जान से मारने की धमकी दी
विनेश ने कहा था- टोक्यो ओलिंपिक में हार के बाद WFI के अध्यक्ष ने मुझे ‘खोटा सिक्का’ कहा। मानसिक रूप से प्रताड़ित किया। मैं हर दिन अपने जीवन को समाप्त करने के बारे में सोचती थी। अगर किसी पहलवान को कुछ होता है तो जिम्मेदारी WFI अध्यक्ष पर होगी।

विनेश यहीं नहीं रुकीं। उन्होंने कहा- कोच महिलाओं को प्रताड़ित कर रहे हैं। हमारी स्थिति यह है कि अगर पानी भी बिना परमिशन के पी लिया तो फेडरेशन नाराज हो जाती है। हमें मारने की धमकी दी जा रही है। हमारे साथ कुछ भी होता है तो उसके लिए अध्यक्ष जिम्मेदार होंगे। हम लोग अपना करियर दांव पर लगाकर यहां धरने पर बैठे हैं।

ये पहलवान धरने पर

  • बजरंग पूनिया, सोनीपत
  • विनेश फोगाट, भिवानी
  • साक्षी मलिक, रोहतक
  • सरिता मोर, सोनीपत
  • अमित धनखड़, रोहतक
  • सुजीत मान, झज्जर
  • सोमबीर राठी, सोनीपत
  • राहुल मान, दिल्ली
  • अंशु मलिक, जींद
  • सत्यव्रत कादयान, रोहतक
  • संगीता फोगाट
  • सोनम
  • जितेंद्र

हमारे निजी जीवन में दखलंदाजी
WFI हमारे निजी जीवन में भी दखल देते हैं और हमें परेशान करते हैं। वे हमारा शोषण कर रहे हैं। जब हम ओलिंपिक में गए थे तो हमारे पास फिजियो या कोच नहीं था। दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरना दे रहे पहलवानों ने कहा- जब से हमने आवाज उठाई है, हमें धमकाया जा रहा है। विनेश ने कहा कि फेडरेशन खिलाड़ियों पर जबरदस्ती बैन लगाती है जिससे खिलाड़ी खेल न सके। मैं लगभग 10 साल से फेडरेशन से बात करने और हमारे मुद्दों को समझाने की कोशिश कर रही हूं, लेकिन कोई सुनने को तैयार नहीं है।

विनेश फोगट ने 2022 बर्मिंघम गेम्स में गोल्ड मेडल जीता था।

विनेश फोगट ने 2022 बर्मिंघम गेम्स में गोल्ड मेडल जीता था।

क्या है पूरा मामला?
भास्कर के सूत्रों ने बताया कि विशाखापट्टनम में सीनियर रेसलिंग चैंपियनशिप में फेडरेशन ने नए रेफरी बुला लिए थे। नए रेफरियों को नियमों की जानकारी नहीं थी। उन्होंने गलत निर्णय दिए। इससे प्लेयर्स में बड़ा असंतोष रहा और लड़ाईयां भी हुईं।

बजरंग पूनिया के पर्सनल कोच सुजीत मान ने एक मैच के निर्णय पर सवाल उठाया तो उन्हें फेडरेशन ने सस्पेंड कर दिया। सोनीपत में लगे सीनियर कैंप में सुजीत मान का नाम नहीं है। फेडरेशन की ऐसी ही मनमानियों के कारण धरना दिया जा रहा है।

अध्यक्ष को लिखे पत्र से विरोध के बारे में पता चला: WFI असिस्टेंट सेक्रेटरी
WFI के खिलाफ पहलवानों के विरोध पर WFI के असिस्टेंट सेक्रेटरी विनोद तोमर ने कहा- मुझे पता नहीं है ये किस बारे में है। WFI के अध्यक्ष को सभी रेसलर ने पत्र लिखा, उससे मुझे प्रदर्शन के बारे में पता चला। मैं यहां उनसे उनकी समस्या पूछने आया हूं।

प्रोटेस्ट चलने तक कोई भी खिलाड़ी टूर्नामेंट नहीं खेलेगा
बजरंग पूनिया ने कहा कि भारत के सभी टॉप रेसलर्स कोई भी नेशनल और इंटरनेशनल टूर्नामेंट नहीं खेलेंगे जब तक समस्या का हल नहीं निकल जाता। फेडरेशन हम रेसलर्स के साथ अच्छा व्यवहार नहीं करता है। सभी रेसलर्स का PM ऑफिस और गृह मंत्री से अनुरोध है कि वे हमारी मदद करें।

अब बुधवार को हुए धरने के फोटोज देखिए

रेसलर विनेश फोगाट अपनी बात कहते-कहते भावुक हो गईं। उन्होंने अपने आंसू पोछें और फिर पूरी बात कही।

रेसलर विनेश फोगाट अपनी बात कहते-कहते भावुक हो गईं। उन्होंने अपने आंसू पोछें और फिर पूरी बात कही।

पहलवान बजरंग पूनिया फेडरेशन से काफी नाराज दिखे। उन्होंने अध्यक्ष के इस्तीफे की मांग कर डाली।

पहलवान बजरंग पूनिया फेडरेशन से काफी नाराज दिखे। उन्होंने अध्यक्ष के इस्तीफे की मांग कर डाली।

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल जंतर मंतर पहुंची और पहलवान विनेश फोगाट, साक्षी मलिक, अंशु मलिक से मुलाकात की।

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल जंतर मंतर पहुंची और पहलवान विनेश फोगाट, साक्षी मलिक, अंशु मलिक से मुलाकात की।

रेसलर्स ने किया ट्वीट
रेसलर्स ने WFI के खिलाफ ट्वीट किया और अपनी समस्या बताई। अब देखिए रेसलर्स के ट्वीट…

ये खबर भी पढ़ें
WFI अध्यक्ष ने पहलवान को मंच पर मारे थप्पड़:बाहर होने पर बृजभूषण शरण सिंह से सिफारिश लगाने गया, मंच पर जड़े थप्पड़ पे थप्पड़

कैसरगंज से भाजपा सासंद और भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने रांची में मंच पर एक युवा पहलवान को थप्पड़ जड़ दिया। उनकी इस हरकत का वीडियो सामने आया है। बृजभूषण शरण सिंह ने जिस पहलवान को थप्पड़ जड़ा है, वह यूपी का रहने वाला है और अंडर-15 नेशनल कुश्ती चैम्पियनशिप में हिस्सा लेने रांची गया था। पूरी खबर पढ़ने और वीडियो देखने के लिए क्लिक करें



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *