Washing Machine की कैपिसिटी को किलोग्राम में मापते है, लीटर में क्यों नहीं? क्या है इसका जवाब


Washing Machine Capacity: वाशिंग मशीन तो लगभग सभी के घर में होती है. अगर नहीं भी है तो इसे आपने देखा तो ज़रूर होगा. वाशिंग मशीन में इसकी कैपेसिली काफी मायने रखती है. कई लोग तो कैपेसिटी देखकर ही नई वाशिंग मशीन खरीदते हैं. वाशिंग मशीन की कैपेसिटी यह बताती है कि आप एक समय में वाशिंग मशीन पर कितना भार डाल सकते हैं. हम वॉशिंग मशीन को 5kg या 10kg वॉशर के रूप में देखते हैं, लेकिन यह आंकड़ा मशीन के वजन का नहीं होता है बल्कि यह उसकी क्षमता का होता है. क्या आपने कभी सोचा है कि वाशिंग मशीन की क्षमता को किलोग्राम में क्यों मापते है? आइए इसका जवाब जानते हैं.

वाशिंग मशीन की क्षमता को किलोग्राम में क्यों मापते है?

अगर किसी वाशिंग मशीन पर 5 किलो वॉशर या 7.5 किलो वॉशर लिखा है तो यह उसकी क्षमता को दिखाता है. इससे पता चलता है कि मशीन बिना किसी अतिरिक्त पावर का इस्तेमाल किए उस काम को कितने आराम से कर सकती है. अब सवाल है कि वाशिंग मशीन में किलोग्राम की क्षमता की बात ही क्यों की जाती है? दरअसल, मशीन की यह क्षमता गीले नहीं बल्कि सूखे कपड़ों के लिए होती है. अगर आपके पास 10 किलोग्राम वॉशर की मशीन है तो इसका मतलब है कि वो मशीन 10 किलो भार के सूखे कपड़ो को बड़े आराम से धो सकती है.

कुछ सामान्य जानकारी

News Reels

कुछ लोग सोचते हैं कि 5 किलो वॉशर या 7.5 किलो वॉशर मशीन का कुल वज़न है, जबकि ऐसा नहीं है. यह बस (सूखे) कपड़ों को एक समय पर आराम से धोने का आंकड़ा है. वहीं, कपड़े गीले होने पर भारी हो जाते हैं. हम मशीन में सूखे कपड़ो को डालते हैं, लेकिन वह पानी डालने पर गीले हो जाते हैं. ऐसे में कुछ लोग माप को लेकर भ्रमित हो सकते है कि ऐसी स्थिति मे भार को कैसे मापे? बता दें कि जब आप 7 kg की क्षमता वाले किसी वॉशर को लेते हैं, तो आप उसमें 7 किलोग्राम के सूखे कपड़ो को एक बार में आसानी से साफ कर सकते है. यह भी सच है कि कपड़े गीले होने के बाद काफी भारी हो जाते हैं,  लेकिन उस मशीन को उसी हिसाब से डिज़ाइन किया जाता है, इसलिए फिक्र करने की आवश्यकता नहीं है.

यह भी पढ़ें

आसान भाषा में समझें इलेक्ट्रिक और गैस गीजर में अंतर, फिर तय करें कौन सा लेना है



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *