VIDEO: “बबुआ, ये ट्विटर ही वोट भी दे देगा…”: योगी आदित्यनाथ ने प्रतिद्वंद्वियों पर साधा निशाना


मुख्यमंत्री ने कहा, “जब कोविड अपने चरम पर था तब मैं आपके बीच था. अगर आपको याद हो, तो मैं यहां दो बार महामारी की स्थिति पर नजर रखने और फ्रंटलाइन स्वास्थ्य पेशेवरों से मिलने के लिए आया था.”

उन्होंने कहा, “लेकिन अन्य दलों के नेता होम आइसोलेशन में थे. इसलिए उन्हें चुनाव के दौरान भी घर पर रहने का अधिकार है. सुनिश्चित करें कि वे घर पर रहें.”

मुख्यमंत्री ने कहा, “… वे ट्विटर पर व्यस्त थे. तो उन्हें बताओ, बबुआ, ट्विटर आपको वोट देगा.”

हालांकि, कोविड की दूसरी लहर से निपटने के लिए यूपी सरकार की आलोचना की गई थी. सोशल मीडिया पर नदियों के किनारे तैरते हुए शवों के वीडियो और तस्वीर वायरल हुए थे. अस्पतालों में मेडिकल ऑक्सीजन की कमी ने स्थिति को और भी बदतर बना दिया था. हालांकि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान यह समस्या पूरे देश भर से सामने आई थी.

रविवार को होने वाली भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में यूपी की लड़ाई समेत अगले साल कई विधानसभा चुनाव जीतने की रणनीति सर्वोच्च प्राथमिकता वाला एजेंडा होगा. इस सप्ताह की शुरुआत में कई राज्यों में हुए उपचुनावों के नतीजों से पता चला है कि कांग्रेस ने अपनी खोई जमीन वापस पा ली है, लेकिन विपक्ष की बढ़त इतनी नहीं थी कि भाजपा चिंतित हो.

फिर भी, भाजपा रविवार को होने वाली महत्वपूर्ण बैठक में विस्तार से अध्ययन करेगी कि पार्टी पश्चिम बंगाल, हिमाचल प्रदेश और राजस्थान जैसे राज्यों में कैसा प्रदर्शन कर रही है.

अगले साल की शुरुआत में पांच राज्यों- उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर में विधानसभा चुनाव होंगे. हिमाचल प्रदेश और गुजरात में चुनाव 2022 के अंत में होंगे. पंजाब को छोड़कर, इन सभी राज्यों में भाजपा सत्ता में है.





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *