Saawan Kumar Tak: डायरेक्टर सावन कुमार टाक का हार्ट अटैक से निधन


RIP Saawan Kumar Tak: मनोरंजन जगत से एक के बाद एक बुरी खबर सामने आ रही है। इसी कड़ी में जाने-माने फिल्म‌ निर्माता, निर्देशक, गीतकार और लेखक सावन कुमार टाक (Saawan Kumar Tak) के निधन की खबर ने हर किसी को चौंका दिया है। बताते चलें कि सावन ने मुंबई के कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में आज शाम तकरीबन 4.15 बजे अंतिम सांस लेकर दुनिया को अलविदा कह दिया। वहीं, सावन कुमार के भांजे ने उनके निधन की पुष्टि करते हुए इसकी वजह का भी खुलासा किया है।

भांजे ने की मौत की पुष्टि

सावन कुमार के भांजे और फिल्म मेकर नवीन टाक ने एबीपी से बात करते हुए बताया कि डॉक्टर्स के अनुसार, सावन कुमार का निधन हार्ट अटैक और मल्टीपल-ऑर्गन फेलियर के चलते हुआ है। नवीन ने बताया,’86 साल के सावन कुमार टाक लंबे समय से फेफड़े संबंधी बीमारी से जूझ रहे थे। बीते कुछ दिनों से उन्हें काफी वीकनेस फील हो रही थी साथ ही बुखार का भी एहसास हो रहा था। हमें लगा कि न्यूमोनिया है, लेकिन अस्पताल जाकर पता चला कि उनके फेफड़े पूरी तरह खराब हो चुके है।’

हार्ट अटैक बना निधन का कारण

नवीन ने आगे बताया,’आईसीयू में इलाज के लिए एडमिट सावन कुमार का हृदय भी ठीक से काम नहीं कर रहा थ। ऐसे में उनकी हालत काफी नाजुक बनी हुई थी।’ सावन के निधन की खबर वायरल होते ही फैंस और सितारे उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थनाएं करते देखे जा रहे हैं।

4 दशक में किया शानदार काम

बताते चलें कि सावन कुमार ने अपने 4 दशक के लंबे करियर में संजीव कुमार से लेकर सलमान खान जैसे स्टार्स के साथ काम किया था। उन्होंने एक निर्माता के तौर पर अपनी पहली फिल्म ‘नौनिहाल’ बनाई थी, जिसमें संजीव कुमार भी अहम रोल में थे। इसके बाद बतौर निर्देशक उन्होंने पहली फिल्म गोमती किनारे बनाई जिसमें मीना कुमारी थीं। इसके अलावा उन्हें हवस, सौतन, साजन बिन सुहागन, सौतन की बेटी, सनम बेवफा, बेवफा से वफा, खलनायिका, मां, सलमा पे दिल आ गया, सनम हरजाई, चांद का टुकड़ा जैसी फिल्मों के निर्माण के लिए जाना जाता है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.