Kim Jong Un Covid-19 : हंसते-हंसते ऐसा क्या बोल गए किम जोंग उन… सुनकर फूट-फूटकर रोने लगे डॉक्टर? जानें पूरा मामला


North Korea Military Medics Crying : समारोह के एक वीडियो में किम को भाषण देते देखा जा सकता है। वह सैन्य चिकित्साकर्मियों की प्रशंसा कर रहे थे और उनके सामने बैठे मेडिक्स रो रहे थे। किम ने कोरोना पर उत्तर कोरिया की जीत को ‘वैश्विक स्वास्थ्य चमत्कार’ करार दिया है।

 

kim
फोटो : ट्विटर वीडियो

हाइलाइट्स

  • उत्तर कोरिया ने किया कोरोना पर जीत का दावा, किम जोंग उन का ऐलान
  • समारोह में सैन्य चिकित्साकर्मियों को किम ने किया सम्मानित, दिया भाषण
  • भाषण सुनकर रोने लगे मिलिट्री मेडिक्स, किम ने बताया- स्वास्थ्य चमत्कार
प्योंगयांग : महामारी के दो साल से अधिक बीत जाने के बाद भी जीरो कोरोना मामलों का दावा करने वाला उत्तर कोरिया 2022 में इसकी चपेट में आ ही गया। लचर हेल्थ सिस्टम और वैक्सीन के बिना उत्तर कोरिया में लाखों लोग संक्रमित हुए और कई मौतें हुईं। लेकिन बीते दिनों किम जोंग उन ने कोरोना पर जीत की घोषणा कर दुनिया को चौंका दिया। शुक्रवार को उत्तर कोरिया की सरकारी मीडिया ने बताया कि किम जोंग उन ने राजधानी प्योंगयांग में कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई का नेतृत्व करने के लिए सैन्य चिकित्साकर्मियों का आभार प्रकट करने और प्रशंसा के लिए एक समारोह का आयोजन किया जिसमें किम का भाषण सुनकर लोग रोने लगे।

रॉयटर्स की खबर के अनुसार ‘इमरजेंसी एंटी-एपिडेमिक फ्रंट’ पर भेजे गए कोरियाई पीपुल्स आर्मी के हजारों चिकित्साकर्मियों को पिछले हफ्ते किम जोंग उन के कोरोना पर जीत की घोषणा करने और प्रतिबंधों में ढील देने के बाद छुट्टी मिल गई। किम ने प्योंगयांग के ‘अप्रैल 25 हाउस ऑफ कल्चर’ में गुरुवार को कोरोना के खिलाफ में अग्रिम पंक्ति में तैनात चिकित्साकर्मियों की ‘बहादुरी’ का जश्न मनाने के लिए एक कार्यक्रम आयोजित किया।
Kim Jong Un Covid-19 : कोरोना की लहर में गंभीर रूप से बीमार हो गए थे किंग जोंग उन, बहन ने कहा- दक्षिण कोरिया ने फैलाया वायरस, लेंगे बदला!
किम का भाषण सुनकर रोने लगे डॉक्टर
समारोह के एक वीडियो में किम को भाषण देते देखा जा सकता है। वह सैन्य चिकित्साकर्मियों की प्रशंसा कर रहे थे और उनके सामने बैठे मेडिक्स रो रहे थे। किम ने कोरोना पर उत्तर कोरिया की जीत को ‘वैश्विक स्वास्थ्य चमत्कार’ करार दिया है। उत्तर कोरिया में कोरोना से कितने लोग संक्रमित हुए, इसका सटीक आंकड़ा कभी सामने नहीं आया। जाहिर है कि उत्तर कोरिया के पास वैक्सीन और दवाओं सहित बड़े पैमाने पर जांच के उपकरणों का भी अभाव है।

खुद किम जोंग उन भी हो गए थे बीमार
कुछ दिनों पहले किम जोंग उन की बहन ने बताया था कि खुद किम भी देश में संक्रमण की लहर के दौरान ‘गंभीर रूप से’ बीमार हो गए थे। न्यूज एजेंसी KCNA के अनुसार, किम यो जोंग ने एक भाषण में कहा कि उत्तर कोरियाई नेता ‘गंभीर रूप से बीमार’ थे और बुखार से जूझ रहे थे। उन्होंने कहा कि इसके बावजूद उनके भाई ने लोगों की चिंता के कारण एक पल के लिए भी नहीं आराम नहीं किया। उत्तर कोरिया ने इससे पहले आरोप लगाया गया था कि दक्षिण कोरिया के साथ सीमा पर ‘बाहरी चीजें’ देश में कोविड प्रकोप का कारण बनीं जिसे सियोल ने खारिज किया था।

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए NBT फेसबुकपेज लाइक करें

Web Title : Hindi News from Navbharat Times, TIL Network



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.