It’s Final: सरकार ने दिया अंतिम फैसला, आयकर रिटर्न भरने की समयसीमा नहीं बढ़ेगी


Photo:AVIVA INDIA

It’s Final: सरकार ने दिया अंतिम फैसला, आयकर रिटर्न भरने की समयसीमा नहीं बढ़ेगी 

Highlights

  • आयकर रिटर्न भरने की समयसीमा बढ़ाने का कोई प्रस्ताव नहीं है
  • रिटर्न की कुल संख्या पिछले साल की तुलना में 14 प्रतिशत अधिक
  • दोपहर तीन बजे तक 5.62 करोड़ से अधिक रिटर्न दाखिल किए गए हैं

नयी दिल्ली। सरकार ने शुक्रवार को कहा कि आयकर रिटर्न भरने की समयसीमा बढ़ाने का कोई प्रस्ताव नहीं है और इसकी अंतिम तिथि 31 दिसंबर 2021 ही है। उसने यह भी कहा कि करदाताओं को रिटर्न दाखिल करने में कोई समस्या नहीं हुई क्योंकि अब तक दाखिल किए गए रिटर्न की कुल संख्या पिछले साल की तुलना में 14 प्रतिशत अधिक है। आयकर रिटर्न (आईटीआर) भरने की समय सीमा करीब आ गई है। 

दोपहर तीन बजे तक 5.62 करोड़ से अधिक रिटर्न दाखिल किए गए हैं, जो पिछले साल 31 दिसंबर तक दाखिल किए गए कुल 4.93 करोड़ से 14 प्रतिशत अधिक है। राजस्व सचिव तरुण बजाज ने कहा कि आईटीआर भरने का काम‘‘काफी सुचारू रूप से’’ चल रहा है और दोपहर तीन बजे तक कुल 5.62 करोड़ रिटर्न दाखिल किए जा चुके हैं। बजाज ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘आज लोगों ने 20 लाख से अधिक रिटर्न दाखिल किये जो सबसे अधिक है। 

पिछले एक घंटे में 3.44 लाख रिटर्न दाखिल किए गए हैं। इसलिए यदि इतनी संख्या में रिटर्न दाखिल किया जा रहा है, तो मुझे किसी के लिए (समय सीमा विस्तार) करने का कोई कारण नहीं दिखता।’’ उन्होंने कहा कि पिछले साल 30 दिसंबर तक 4.83 करोड़ आयकर दाखिल किए गए थे, जबकि 30 दिसंबर 2021 तक 5.43 करोड़ रिटर्न दाखिल किए गए हैं।

सरकार ने पहले ही वित्त वर्ष 2020-21 (मार्च 2021 को समाप्त) के लिए आयकर रिटर्न दाखिल करने की समय सीमा को पांच महीने बढ़ाकर 31 दिसंबर कर दिया था। बजाज ने कहा, ‘‘मुझे उम्मीद है कि रात के 12 बजे तक कम से कम 20-25 लाख और रिटर्न दाखिल किए जाएंगे। जिस आंकड़े का हम अनुमान लगा रहे थे, वह आ जाएगा। तारीख को आगे बढ़ाने का कोई प्रस्ताव नहीं है।’’





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *