Hockey World Cup 2023: हॉकी का हब बनता जा रहा है ओडिशा, लगातार दूसरी बार कर रहा विश्व कप की मेजबानी


हॉकी विश्व कप का आयोजन 13 जनवरी से लेकर 29 जनवरी के बीच होगा। सभी मुकाबले दो स्टेडियम में खेले जाएंगे पहला है। भुवनेश्वर का कलिंगा स्टेडियम और दूसरा है बिरसा मुंडा इंटरनेशनल हॉकी स्टेडियम जोकि राउरकेला में है।

भारत में ओडिशा हॉकी का हब बनता जा रहा है। ओडिशा में हॉकी के क्षेत्र में कई बड़े काम किए हैं। खुद ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक हॉकी को लेकर लगातार अपनी दिलचस्पी दिखाते रहते हैं। इसमें कोई संदेह नहीं है कि नवीन पटनायक ने भारतीय हॉकी को फिर से पुनर्जीवित करने में एक अहम भूमिका निभाई है। हॉकी विश्वकप को लेकर ओडिशा के मुख्यमंत्री अपनी दिलचस्पी भी दिखा रहे हैं। वह लगातार तैयारियों की समीक्षा भी कर रहे हैं। हॉकी विश्व कप का आयोजन 13 जनवरी से लेकर 29 जनवरी के बीच होगा। सभी मुकाबले दो स्टेडियम में खेले जाएंगे पहला है। भुवनेश्वर का कलिंगा स्टेडियम और दूसरा है बिरसा मुंडा इंटरनेशनल हॉकी स्टेडियम जोकि राउरकेला में है।

2018 में भी ओडिशा ने ही हॉकी विश्व कप की मेजबानी की थी। ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर में मुकाबले खेले गए थे। ओडिशा में इस बार हो रहे हॉकी विश्व कप में कुल 16 टीमें भाग ले रही हैं। भारत इस विश्व कप की मेजबानी कर रहा है। भारत के अलावा इस विश्व कप में बेल्जियम, इंग्लैंड, जर्मनी, नीदरलैंड्स, स्पेन, फ्रांस और वेल्स की टीम शामिल हो रही है। इसके अलावा दक्षिण अफ्रीका, अर्जेंटीना, चिली, जापान, मलेशिया, दक्षिण कोरिया, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की टीम भी इस विश्वकप में अपना दबदबा दिखाएगी।

भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम की कैपेसिटी की बात करें तो 16,000 है। इसे पूरी तरीके से अपग्रेड किया गया है। वहीं, राउरकेला के बिरसा मुंडा हॉकी इंटरनेशनल स्टेडियम की क्षमता 20000 है। यह स्टेडियम आधुनिक सुविधाओं से पूरी तरीके से लैस है। दर्शक दुनिया के किसी भी अन्य हो के स्टेडियम की तुलना में किस स्टेडियम में मैच को काफी करीब से देख पाएंगे।

विश्व कप में शामिल हो रही टीमों को चार पुल पर बांटा गया है। पुल A, B, C, D।

Pool A

ऑस्ट्रेलिया

अर्जेंटीना

फ्रांस

दक्षिण अफ्रीका

Pool B

बेल्जियम

जर्मनी

साउथ कोरिया

जापान

Pool C

नीदरलैंड

न्यूजीलैंड

मलेशिया

चिली

Pool D

भारत

इंग्लैंड

स्पेन

वेल्स

भारत को अपना पहला मुकाबला राउरकेला में स्पेन के साथ 13 जनवरी को खेलना हैं। वहीं भारत दूसरा मुकाबला इंग्लैंड के खिलाफ 15 जनवरी को राउरकेला में ही खेलेगा। भारत को तीसरा मुकाबला वेल्स के खिलाफ कलिंगा स्टेडियम भुवनेश्वर में 19 जनवरी को खेलना है। इसके बाद quarter-final के मुकाबले खेले जाएंगे।

सेमी फाइनल मुकाबला 27 जनवरी को भुवनेश्वर में खेला जाएगा। दो सेमीफाइनल मुकाबले होंगे। वहीं, तीसरे और चौथे पोजीशन के लिए मुकाबला 29 जनवरी को होगा। 29 जनवरी को ही भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम में फाइनल मुकाबला खेला जाएगा।

यह है टीम

गोलकीपर- कृशन बी पाठक और पी आर श्रीजेश

डिफेंडर: हरमनप्रीत सिंह, अमित रोहिदास, सुरेंदर कुमार, वरूण कुमार, जरमनप्रीत सिंह और नीलम संजीप सेस

मिडफील्डर: विवेक सागर प्रसाद, मनप्रीत सिंह, हार्दिक सिंह, नीलाकांता शर्मा, शमशेर सिंह और आकाशदीप सिंह

फॉरवर्ड: मनदीप सिंह, ललित उपाध्याय, अभिषेक और सुखजीत सिंह

वैकल्पिक खिलाड़ी: राजकुमार पाल और जुगराज सिंह।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *