G20 के पहले सड़कों पर उतरे मुस्लिम समुदाय के लोग: दिल्ली में धारा 144 लागू होने के बाद भी निकाली रैली; जानिए वायरल VIDEO का सच


एक दिन पहले

  • कॉपी लिंक

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें देखा जा सकता है कि मुस्लिम समुदाय के लोग रैली निकाल रहे हैं। हाथ में बोर्ड लिए मजहबी नारे लगाते हुए लोगों की भीड़ सड़क पर चलते हुए देखी जा सकती है। दावा किया जा रहा है कि ये वीडियो दिल्ली का है। जहां धारा 144 लागू है, उसके बावजूद मुस्लिम समुदाय के लोग रैली निकाल रहे हैं।

ट्रीनी नाम के वेरिफाइड यूजर ने वीडियो शेयर कर लिखा- नई दिल्ली, मुस्लिम समुदाय की भीड़ ने धार्मिक नारे लगाते हुए घंटों तक ट्रैफिक जाम कर दिया। यह G20 शिखर सम्मेलन से ठीक पहले धारा 144 लागू होने के बीच हुआ। (अर्काइव)

वायरल वीडियो का स्क्रीनशॉट।

वायरल वीडियो का स्क्रीनशॉट।

सुजित स्वामी नाम के यूजर ने लिखा- जब ट्रंप आए थे, तब भी इसी तरह देश को बदनाम करने की साजिश हुई थी। अब G20 के समय भी मुस्लिम धर्म के लोग रोड पर आ गए। जबकि दिल्ली में धारा 144 लागू है। (अर्काइव)

सुजित स्वामी के पोस्ट का स्क्रीनशॉट।

सुजित स्वामी के पोस्ट का स्क्रीनशॉट।

वायरल वीडियो की पड़ताल करने पर हमें इस मामले पर दिल्ली पुलिस की एक पोस्ट मिला। दिल्ली पुलिस ने लिखा- झूठी खबर, कुछ सोशल मीडिया हैंडल गलत तरीके से चेहलुम जुलूस के वीडियो को G20 शिखर सम्मेलन से पहले सांप्रदायिक विरोध के रूप में पेश कर रहे हैं। चेहलुम एक पारंपरिक जुलूस है। जिसे एजेंसियों की अनुमति के साथ निकाला जाता है। कृपया अफवाहें न फैलाएं।

पड़ताल के दौरान हमें दिल्ली पुलिस के एक्स अकाउंट पर चेहलुम जुलूस के लिए ट्रैफिक एडवाइजरी भी मिली। एडवाइजरी शेयर करते हुए दिल्ली पुलिस ने लिखा- ट्रैफिक एडवाइजरी, चेहलुम जुलूस के मद्देनजर, कुछ सड़कों और हिस्सों में यातायात नियमों और बदलावों का अनुभव होगा। असुविधा से बचने के लिए कृपया सलाह का पालन करें।

साफ है कि सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा पूरी तरह गलत है। यह जुलूस पुलिस प्रशासन की परमिशन से निकाला गया है।

मुहर्रम के 40वें दिन चेहलुम मनाया जाता है
शिया मुस्लिम समुदाय ने दिल्ली में गुरुवार को चेहलुम मनाया। पैगंबर हजरत मोहम्मद के नवासे इमाम हुसैन की शहादत की याद में मुहर्रम के 40वें दिन चेहलुम मनाया जाता है। इस बार G20 शिखर सम्मेलन के चलते चेहलुम का मुख्य जुलूस बुधवार को सुबह आठ बजकर 30 मिनट पर पहाड़ी भोजला से शुरू हुआ।

इस जुलूस में लोग ताजिया और आलम लेकर चलते हैं। यह जुलूस आगे उत्तरी दिल्ली में चितली कबर, मटिया महल, जामा मस्जिद, हौज काजी, अजमेरी गेट, पहाड़गंज पुल, चेम्सफोर्ड रोड और नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से होते हुए दरगाह शाह-ए-मर्दन और बाद में कर्बला तक पहुंचा।

खबरें और भी हैं…





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *