Arvind Kejriwal: गोवा में सरकार बनने पर केजरीवाल ने किया अयोध्या तक मुफ्त तीर्थ यात्रा का वादा, कांग्रेस-बीजेपी को बताया भ्रष्ट


हाइलाइट्स

  • गोवा में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले अरविंद केजरीवाल ने किया बड़ा ऐलान
  • केजरीवाल ने कहा कि राज्य में सरकार बनने पर अयोध्या की मुफ्त तीर्थयात्रा कराएंगे
  • केजरीवाल ने कहा कि वह हाल ही में अयोध्या गए थे जिसके बाद उन्हें यह विचार आया

पणजी
गोवा में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी (AAP) के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने बड़ा ऐलान किया। पणजी पहुंचे दिल्ली सीएम केजरीवाल ने कहा कि अगर राज्य में AAP की सरकार बनती है तो वह हिंदुओं को अयोध्या की मुफ्त तीर्थयात्रा कराएंगे। केजरीवाल ने कहा कि वह हाल ही में अयोध्या गए थे जिसके बाद उन्हें यह विचार आया।

पणजी में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान केजरीवाल ने कहा, ‘अगर हम गोवा में सरकार बनाते हैं, तो हम हिंदुओं को अयोध्या और ईसाइयों के लिए वेलंकन्नी की मुफ्त तीर्थयात्रा की सुविधा देंगे।’ केजरीवाल ने आगे कहा, ‘मुसलमानों को हम अजमेर शरीफ और साईं बाबा के प्रति श्रद्धा रखने वालों के लिए शिरडी मंदिर की मुफ्त यात्रा कराएंगे।’

मिल बांटकर मलाई खाते हैं बीजेपी-कांग्रेस

केजरीवाल ने कांग्रेस और बीजेपी निशाना साधते हुए कहा, ‘दोनों दल भ्रष्ट हैं। कांग्रेस इसलिए बीजेपी के खिलाफ नहीं बोलती क्योंकि उन्हें पता है अगर वो बोलेंगे तो उन्हें जेल में डाल दिया जाएगा। 10 साल से बीजेपी की सरकार है और कांग्रेस के एक भी मंत्री और सीएम के खिलाफ एक भी केस क्यों दर्ज नहीं हुआ? दोनों मिले हुए हैं, दोनों मिल बांटकर मलाई खाते हैं।’

‘सत्यपाल मलिक ने गोवा सीएम को बताया था भ्रष्ट’
केजरीवाल ने आगे कहा, ‘सत्यपाल मलिक (गोवा के पूर्व राज्यपाल) ने आरोप लगाया है कि जब वो 1 साल राज्यपाल थे तब गोवा के हर काम में भ्रष्टाचार था। उनकी (बीजेपी) अपनी पार्टी के राज्यपाल ने मुख्यमंत्री पर आरोप लगाया है कि वो भ्रष्ट सीएम है।’

गोवा के पूर्व गवर्नर पर केजरीवाल ने कहा, ‘सत्यपाल मलिक ने जब केंद्र सरकार को गोवा के मुख्यमंत्री के बारे में बताया तो केंद्र सरकार ने उन्हें पद से ही हटा दिया। कांग्रेस भी भ्रष्टाचार करती थी और बीजेपी भी भ्रष्टाचार कर रही है, दोनों ही भ्रष्टाचार कर रहे हैं।’

अरविंद केजरीवाल



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *