Abu Dhabi Mandir: अबू धाबी का पहला हिंदू मंदिर शांति, सहिष्णुता और सद्भाव का प्रतीक… गणेश चतुर्थी पर पहुंचे जयशंकर


अबू धाबी: विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने बुधवार को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) की राजधानी अबू धाबी में पहले निर्माणाधीन हिंदू मंदिर का दौरा किया और इसे शांति, सहिष्णुता व सद्भाव का प्रतीक बताया। बुधवार को तीन दिवसीय यात्रा पर यूएई पहुंचे जयशंकर ने प्रतिष्ठित मंदिर के निर्माण में भारतीयों के प्रयासों की भी सराहना की। यह मंदिर 55,000 वर्ग मीटर भूमि पर बनेगा। इसे भारतीय कारीगरों द्वारा तराशा जाएगा और बाद में यूएई में विभिन्न हिस्सों को जोड़ा जाएगा। यह मध्य पूर्व में पहला पारंपरिक हिंदू मंदिर होगा। संयुक्त अरब अमीरात की यात्रा के दौरान, जयशंकर अपने समकक्ष शेख अब्दुल्ला बिन जायद के साथ वार्ता करके दोनों देशों के बीच व्यापक रणनीतिक साझेदारी की समीक्षा करेंगे।

जयशंकर ने ट्वीट में क्या कहा?
जयशंकर ने ट्वीट किया कि गणेश चतुर्थी के शुभ अवसर पर अबू धाबी में निर्माणाधीन बोचासनवासी अक्षर पुरुषोत्तम स्वामीनारायण हिंदू मंदिर में दर्शन करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। मंदिर निर्माण की तीव्र प्रगति तथा इसमें शामिल सभी लोगों की सराहना करता हूं। निर्माण स्थल पर बोचासनवासी अक्षर पुरुषोत्तम स्वामीनारायण की टीम, समुदाय के सदस्यों, श्रद्धालुओं और कार्यकर्ताओं से मिलकर अति प्रसन्नता हुई।”

शेख नाहयान से भी मिले एस जयशंकर
जयशंकर ने यूएई के सहिष्णुता और सह-अस्तित्व मंत्री शेख नाहयान बिन मबारक अल नाहयान से भी मुलाकात की और भारतीय समुदाय, योग गतिविधियों, क्रिकेट और सांस्कृतिक सहयोग के लिए उनके मजबूत समर्थन की सराहना भी की। इससे पहले यूएई में भारतीय दूतावास ने ट्वीट किया कि विदेश मंत्री डॉक्टर एस. जयशंकर की यात्रा की शुभ शुरुआत। विदेश मंत्री ने अबू धाबी मंदिर के स्थल का दौरा किया। साथ ही शांति, सहिष्णुता व सद्भाव के प्रतीक इस प्रतिष्ठित मंदिर के निर्माण में सभी भारतीयों के प्रयासों की सराहना की।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.