200 विकेट पूरे कर मोहम्मद शमी की आंखों में आएं आंसू, पिता को याद कर कही ये बात


भारत ने सेंचुरियन टेस्ट में साउथ अफ्रीका के सामने जीत के लिए 305 रन का लक्ष्य रखा है. हिंदुस्तान की दूसरी पारी 174 रन पर सिमट गई. अतिथि टीम के पास पहली पारी में 130 रन की बढ़त थी ऐसे में उसने साउथ अफ्रीका के सामने एक मुश्किल लक्ष्य रखा है. आंकड़ों की बात करें तो मेजबान टीम के लिए राह बहुत मुश्किल होने वाली है.

आंकड़ों की बात करें तो हिंदुस्तान के विरूद्ध टेस्ट क्रिकेट में 250 रन से अधिक का लक्ष्य केवल दो बार ही सफलतापूर्वक हासिल किया जा सका है. यानी भारतीय बॉलिंग ज्यादातर मौकों पर विपक्षी टीम को यह स्कोर देने के बाद जीतने नहीं देती है.

21 दिसंबर 1977 को पर्थ में ऑस्ट्रेलिया ने 8 विकेट पर 342 रन बनाए थे. इसके अतिरिक्त वेस्टइंडीज ने 29 नवंबर 1987 को 5 विकेट पर 276 रन बनाए थे.

सेंचुरियन की बात करें तो इस मैदान पर हिंदुस्तान ने इससे पहले दो टेस्ट मैच खेले थे और दोनो में उसे हार मिली थी. हिंदुस्तान को 2010 और 2018 में इस मैदान पर साउथ अफ्रीका ने हराया था.

भारतीय टीम के कैप्टन विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय किया. सलामी बल्लेबाज केएल राहुल ने बहुत बढ़िया सेंचुरी बनाई. उन्होंने 123 रन की पारी खेली. इसके अतिरिक्त मयंक अग्रवाल ने भी 60 रन बनाए.

इसके बाद बोलर्स ने अच्छा प्रदर्शन किया. साउथ अफ्रीका की टीम 197 रन ऑल आउट हो गई. मोहम्मद शमी ने पांच विकेट लिए और जसप्रीत बुमराह और शार्दुल ठाकुर ने दो-दो विकेट लिए. इसके बाद हिंदुस्तान ने दूसरी पारी में 174 रन बनाए. यहां ऋषभ पंत ने 34 रन बनाए.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *