सिद्धू मूसेवाला मर्डर : ‘सिंगर साथ नहीं ले गए थे कमांडो और बुलेट प्रूफ कार, गैंगवार का है मामला’ – पंजाब पुलिस


सिद्धू मूसेवाला मर्डर : 'सिंगर साथ नहीं ले गए थे कमांडो और बुलेट प्रूफ कार, गैंगवार का है मामला' - पंजाब पुलिस

पंजाबी गायक और कांग्रेस के नेता सिद्धू मूसेवाला की गोली मारकर हत्या कर दी गई है (फाइल फोटो).

नई दिल्ली:
पंजाब के मशहूर गायक और कांग्रेस नेता सिद्धू मूसेवाला की रविवार को हत्या कर दी गई. उनकी गाड़ी पर मानसा में 30 राउंड से ज़्यादा फ़ायरिंग हुई. इसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. सिद्धू मूसेवाला की सुरक्षा शनिवार को ही पंजाब सरकार ने वापस ली थी. सीएम भगवंत मान ने कानून व्यवस्था का हवाला देते हुए शनिवार को 424 VIP की सुरक्षा तत्काल प्रभाव से वापस ले ली थी. इनमें से मूसेवाला भी एक थे. पंजाब के डीजीपी वीके भवरा ने मीडिया को संबोधित करते हुए बताया कि इसके पीछे लॉरेंस बिश्नोई गैंग का हाथ है. कनाडा के लकी ने हत्या की ज़िम्मेदारी ली है. मूसेवाला दोनों कमांडो को साथ लेकर नहीं गए थे, निजी बुलेट प्रूफ़ गाड़ी भी लेकर नहीं गए थे.

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :

  1. पंजाब पुलिस का कहना है कि सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड का कारण गैंगवार है. साल 2021 में विक्की मिददुखेड़ा की हत्या  कर दी गई थी. इस हत्याकांड में शामिल तीन बदमाशों को हाल ही में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने पकड़ा था. तीनों बदमाशों ने पूछताछ में एक नामी सिंगर के मैनेजर के उस हत्याकांड में शामिल होने की बात बताई थी. सूत्रों के मुताबिक वह पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला ही था.

  2. गिरफ्तार बदमाशों के नाम शॉर्प शूटर सज्जन सिंह उर्फ भोलू, अनिल कुमार उर्फ लट्ठ और अजय कुमार उर्फ सन्नी कौशल है. उन्हें पंजाब पुलिस ने तिहाड़ जेल से रिमांड पर लिया था.

  3. पुलिस का कहना है कि विक्की मुद्दुखेरा गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई का करीबी था और हो सकता है उसकी मौत का बदला लेने के लिए लॉरेंस बिश्नोई ने अपने गुर्गों से सिद्धू मूसेवाला की हत्या कराई हो. कनाडा में बैठा गैंगस्टर गोल्डी, लॉरेंस बिश्नोई गैंग के साथ मिलकर दिल्ली, राजस्थान, पंजाब और हरियाणा ऑपरेट करता है.

  4. पंजाब के डीजीपी वीके भवरा ने कहा कि, घर से निकलने के बाद जब सिद्धू मूसेवाला दो अन्य लोगों के साथ मानसा जिले में अपनी कार से जा रहे थे, तो सामने से दो कारें आईं और फायरिंग हुई. वह घायल हो गए और उन्हें अस्पताल ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित किया गया. यह गैंगवार का मामला लगता है.

  5. मूसेवाला के पास पंजाब पुलिस के 4 कमांडो थे, जिनमें से 2 को वापस ले लिया गया था, लेकिन उसके पास दो कमांडो थे जिन्हें वे आज अपने साथ नहीं ले गए थे. उनके पास एक निजी बुलेटप्रूफ कार भी थी, लेकिन उसे भी वह अपने साथ नहीं ले गए थे.

  6. इस हत्याकांड में लॉरेंस बिश्नोई गिरोह शामिल है. गिरोह के सदस्य लकी ने कनाडा से जिम्मेदारी ली है.

  7. सीएम के आदेश पर आईजी रेंज को एसआईटी गठित करने का निर्देश दिया गया है. 3 हथियारों का इस्तेमाल किया गया था. एसएसपी मानसा और एसएसपी बठिंडा को वहां तैनात किया गया है. एडीजी कानून और व्यवस्था ने अतिरिक्त बल जुटाए हैं.

  8. शुभदीप सिंह सिद्धू एक पंजाबी गायक के रूप में सिद्धू मूसेवाला नाम से लोकप्रिय थे. यह घटना पंजाब सरकार द्वारा मूसेवाला सहित 424 लोगों की सुरक्षा वापस लेने के ठीक एक दिन बाद हुई.

  9. पंजाब की भगवंत मान सरकार ने कल यानी शनिवार को ही 424 वीआईपी लोगों की सुरक्षा वापस ली है. जिनकी सुरक्षा वापस ली गई, उनमें कई सेवानिवृत्त अधिकारी और पूर्व विधायक भी शामिल हैं. इससे पहले अप्रैल में भी पंजाब सरकार ने पूर्व मंत्रियों और नेताओं सहित 184 लोगों की सुरक्षा वापस लेने का आदेश दिया था.

  10. मूसेवाला अगले सप्ताह गुड़गांव में अपना शो करने वाले थे. मूसेवाला पिछले साल नवंबर में कांग्रेस में शामिल हुए थे. मूसेवाला ने मानसा से कांग्रेस के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ा था. उन्हें आम आदमी पार्टी के डॉ विजय सिंगला ने हराया था. सिंगला मान सरकार में मंत्री थे जिन्हें हाल ही में भ्रष्टचार के आरोप में हटा दिया गया है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.