सहवाग ने टीम इंडिया के बॉडी लैंग्वेज पर उठाए सवाल, बोले- दिल तोड़ती है ऐसी हार, आत्ममंथन की जरूरत


दुबई
भारतीय टीम को टी-20 वर्ल्ड कप-2021 के अहम मुकाबले में न्यूजीलैंड के खिलाफ 8 विकेट से हार का सामना करना पड़ा है। कागजों पर दुनिया का सबसे मजबूत भारतीय बल्लेबाजी क्रम न्यूजीलैंड की अनुशासित गेंदबाजी के सामने बुरी तरह बिखर गया और आईसीसी टी20 विश्व कप के ‘क्वॉर्टर फाइनल’ माने जा रहे मुकाबले में विराट कोहली की टीम सात विकेट पर 110 रन ही बना सकी।

जवाब में न्यूजीलैंड ने 2 विकेट खोकर 14.3 ओवर में 111 रन बनाते हुए टूर्नामेंट में अपनी पहली जीत दर्ज की। दूसरी ओर, टी-20 वर्ल्ड कप में भारत पर जीत का रेकॉर्ड भी बरकरार रखा। इससे पहले भारत को पाकिस्तान से हार मिली थी।

Virat-Rohit Trolls: विराट कोहली और रोहित शर्मा हुए फेल, सोशल मीडिया पर मचा बवाल, यूं हो रहे ट्रोल

इस हार के बाद टीम इंडिया के पूर्व ओपनर विरेंदर सहवाग (Virender Sehwag) ने निराशा जताई है। उन्होंने ट्वीट किया- ‘भारत से बेहद निराश हूं। न्यूजीलैंड का प्रदर्शन अद्भुत रहा। भारत की बॉडी लैंग्वेज बहुत अच्छी नहीं थी। खराब शॉट चयन और अतीत में किए गए कारनामों की तरह एक बार फिर न्यूजीलैंड ने लगभग सुनिश्चित कर दिया है कि हम अगले चरण में स्थान नहीं बना पाएंगे। यह भारत को चोट पहुंचाएगा और यह आत्ममंथन का समय है।’

दूसरी ओर, हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने ट्वीट करते हुए टीम इंडियाdका समर्थन देने की अपील की है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा- ‘अपने खिलाड़ियों के प्रति कठोर न हों। हां, हम बेहतर क्रिकेट के लिए जाने जाते हैं। ऐसे परिणामों के बाद सबसे ज्यादा खिलाड़ियों को चोट पहुंचती है। लेकिन न्यूजीलैंड ने अच्छा किया। उन्होंने सभी विभागों में शानदार प्रदर्शन किया है।

दूसरी ओर, न्यूजीलैंड से आठ विकेट से हार के बाद टी20 विश्व कप सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर होने की कगार पर खड़ी भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा कि उनके खिलाड़ी बल्ले और गेंद दोनों से साहस का प्रदर्शन नहीं कर सके। कोहली ने लगातार दूसरी हार के बाद कहा, ‘यह बहुत अजीब है। मुझे नहीं लगता कि हम बल्ले या गेंद से अपने खेल में साहस दिखा पाए। हमने रन ज्यादा नहीं बनाये लेकिन उसे बचाने के लिए भी साहस के साथ नहीं उतरे।’



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *