लकड़ी जलाने के बाद उसकी राख फेंकने से पहले जरूर पढ़ें ये आर्टिकल


Reuses Of Wooden Ashes: अक्सर हम लोग बहुत सारी चीजों को यूजलेस समझ कर यूं ही छोड़ देते हैं, लेकिन अगर उन चीजों के बारे में आपको जानकारी हो तो वे बहुत काम आ सकती हैं. जलने के बाद लकड़ी की राख को ही ले लीजिए. हमारे घर में कई ऐसे मौके आते हैं, जब हमें लकड़ी जलाना पड़ता है. जलने के बाद उस राख को ऐसे ही छोड़ने की बजाय आप उसका इस्तेमाल अपने गार्डन में कर सकते हैं. शायद यह बात आप नहीं जानते हैं कि जितनी लाभकारी लकड़ी होती है उतनी ही लाभकारी उसकी राख भी होती है. जलने के बाद लकड़ी की राख में कई महत्वपूर्ण तत्व मौजूद होते हैं, जो आपके गार्डन के लिए काफी उपयोगी साबित हो सकती है. आइए जानते हैं, जली हुई लकड़ी की राख का किस तरह इस्तेमाल करें.

लकड़ी की राख को बगीचे में फैलाएं
लकड़ी की राख को बगीचे में फैलाना सबसे अच्छा और आसान तरीका है. लेकिन इसके लिए एक बात ध्यान रखना जरूरी है कि जरूरत से ज्यादा लकड़ी की राख को क्यारी में नहीं फैलाया जा सकता. क्योंकि यह मिट्टी का पीएच बढ़ा देती है. हालांकि आप सर्दियों के मौसम में थोड़ी अधिक मात्रा में राख का इस्तेमाल कर सकते हैं परंतु अन्य मौसम में नहीं किया जा सकता.

यह भी पढ़ें – चिलचिलाती धूप में निकलने से पहले और आने के बाद इन बातों का रखें ध्यान

कम्पोस्ट को सुधारे
राख में मौजूद लाभकारी तत्व के कारण खाद बनाने में इसका उपयोग करना अच्छा माना जाता है. इसके गुणकारी तत्व ही कम्पोस्ट में सुधार करने में मदद करते हैं. एक बात का ध्यान रखें राख में मिट्टी का पीएच बदलने की क्षमता होती है, जिसके कारण इसका कम इस्तेमाल करना चाहिए. जब भी आप खाद जमा करें हर 6 इंच की लेयर पर थोड़ी सी राख का छिड़काव करें. यदि आप घर से निकले फलों के छिलके या अन्य अमलीय कचरे से खाद का निर्माण कर रहें हैं तो आप राख का अधिक उपयोग कर सकते हैं.

नहीं आएंगे कीट
बगीचे के जिस हिस्से में घोंघे और स्लग आते हैं, वहां राख की एक पतली लेयर बिछा दें. इससे वे उस क्षेत्र में नहीं आएंगे.

यह भी पढ़ें –  करें दही से फेशियल और पाएं इन 4 स्टेप्स में पार्लर जैसा निखार

बरतें सावधानी
-जब भी आप अपने बगीचे में राख फैला रहे हों, तो आंखों में ग्लासेस जरूर पहनें. इसके अलावा डस्ट मास्क भी पहन सकते हैं.
-अन्य किसी तरह के ऊर्वरकों के साथ लकड़ी की राख मिला कर बगीचे में इस्तेमाल ना करें.
-बारिश के समय राख के उपयोग से बचें. इससे राख में मौजूद लाभकारी तत्व बारिश में बह जाएंगे.
-लकड़ी की राख का इस्तेमाल गुलाब और आलू पर ना करें. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Tags: Lifestyle, Tips and Tricks



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.