रिकॉर्ड तोड़ महंगाई के बीच यूरोपीय एक्‍सपर्ट का अलर्ट, कहा- सबसे बड़ी मंदी का है खतरा


हाइलाइट्स

यूरोपीय आर्थिक मामलों के विशेषज्ञ ने दी चेतावनी
इटली के पूर्व पीएम ने कहा- मंदी का खतरा मंडरा रहा
यूक्रेन युद्ध के कारण इकोनॉमी की हालत खराब हो रही

ब्रुसेल्स: यूरोपीय संघ (European Union) के एक शीर्ष अधिकारी ने बुधवार को चेतावनी देते हुए कहा है कि आसमान छूती कीमतों के कारण इकोनॉमी (Economy) बुरे दौर में पहुंच चुकी है. रिकॉर्ड तोड़ महंगाई के बीच अब तक की सबसे खतरनाक मंदी का खतरा है. यूरोपीय संघ के अर्थशास्त्र मामलों के कमिश्‍नर पाओलो जेंटिलोनी ने ब्रुसेल्स के एक थिंक टैंक ब्रूगल में एक सम्मेलन के दौरान यह चेतावनी दी है. ब्रूगल आर्थिक मुद्दों पर नीति अनुसंधान के लिए समर्पित एक थिंक टैंक है.

जेंटिलोनी ने कहा कि यूक्रेन पर रूस के आक्रमण के कारण अनिश्चितता असाधारण रूप से हाई बनी हुई है और मंदी का खतरा बढ़ रहा है. पाओलो जेंटिलोनी ने कहा कि हम सबसे चुनौतीपूर्ण सर्दियों में से एक में जा रहे हैं. यूरोप में रोजगार अभी भी मजबूत है और कोरोनोवायरस महामारी से उपजी आपूर्ति श्रृंखला की समस्याएं हल होने लगी हैं. जेंटिलोनी ने कहा कि महत्वपूर्ण रूप से, यूरोपीय अर्थव्यवस्था ने 2022 की दूसरी तिमाही में उम्मीदों से बेहतर प्रदर्शन किया है. इटली के पूर्व प्रधानमंत्री जेंटिलोनी ने कहा, ‘रूसी युद्ध जारी है’ और ‘चेतावनी की कई लाल रोशनी चमक रही हैं. ऊर्जा की कीमतों ने नए रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं, मुद्रास्फीति लगातार चढ़ रही है और आर्थिक धारणा बिगड़ रही है.’

ऐसी चुनौतियों का सामना करते हुए, जेंटिलोनी ने यूरोपीय संघ के देशों से ‘एकजुटता की भावना में आवश्यकतानुसार हस्तक्षेप करने’ का आग्रह किया है. उन्‍होंने कहा कि ‘अगर हम एकजुट रहें… तो हम यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि आने वाले महीनों को हमारे असंतोष की सर्दी के रूप में नहीं बल्कि एक नए यूरोपीय वसंत के अग्रदूत के रूप में याद किया जाएगा.”

Tags: Economy, European union



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.