यहां है देश का सबसे बड़ा सेकंड हैंड कार का बाजार, खरीदते वक्त ये सावधानियां जरूरी


नई दिल्ली. नए साल में क्या आप भी अपनी पहली कार खरीदने का सोच रहे हैं और आपके पास ज्यादा बजट नहीं है तो चिंता मत करिए. आप कम पैसे खर्च करके भी बेहतरीन कार अपने घर ला सकते हैं. अब आपके मन में सवाल उठ रहा होगा कि ये कैसे हो सकता है, लेकिन हम आपको बता दें ये बात बिल्कुल सही है.

आपके पास सेकंड हैंड कार खरीदने का ऑप्शन भी है. अब दूसरा सवाल उठता है कि क्या सेकेंड हैंड कार लेना एक सही चुनाव है. तो हम बता दें यह आज के समय में बिल्कुल सही डिसीजन हो सकता है, लेकिन इसके लिए जरूरी है कि आप सही जगह और सावधानियां रखकर खरीदें. दिल्ली में कई ऐसे कार मार्केट हैं, जहां आपको अच्छी कंडीशन और उचित कीमत (Fair price) पर सेकंड हैंड कार मिल सकती हैं. आइए इन मार्केट के बारे में जानते हैं.

ये भी पढ़ें-  जनवरी में Royal Enfield को कड़ी टक्कर देने आ रही ये बाइक, भारत में पहले भी दिखा चुकी है जलवा

करोल बाग में है सेकंड हैंड कार का सबसे बड़ा मार्केट
दिल्ली के करोल बाग मार्केट में सेकंड हैंड मारुति वैगनआर को सिर्फ 50 से 60 हजार रुपए में खरीद सकते हैं. हालांकि, ये मॉडल 10 साल तक पुराने हो सकते हैं. बता दें कि नई वैगनआर की एक्स-शोरूम कीमत 4.45 लाख रुपए से शुरू है. वहीं, ऑन रोड इसकी कीमत करीब 5.50 लाख रुपए तक हो जाती है. ऐसे में कम कीमत पर आप सेकंड हैंड कार आसानी से खरीद सकते हैं. इसके अलावा आपको इस मार्केट में और भी बेहतरीन ऑप्शन मिल सकते हैं.

ये भी पढ़ें-  मुंबई की सड़कों पर स्पॉट हुई Maruti Suzuki की ये मोस्ट अवेटेड SUV, क्या भारत में जल्द होगी लॉन्च?

सेकंड हैंड कार को करा सकते है फाइनेंस
दिल्ली में यदि आप सेकंड हैंड खरीदने की सोच रहे हैं. तो आपको यहां कार फाइनेंस कराने की सुविधा भी मिल जाएगी. इसके लिए आपको सेकंड हैंड कार मार्केट में डीलरों से संपर्क करना होगा और कुछ जरूरी दस्तावेज मुहैया कराने होंगे. इसके बाद कार डीलर आपको सेकंड हैंड कार को पूरा फाइनेंस करा सकते हैं.

ये भी पढ़ें- मार्च में लॉन्च होगी Skoda की ये मीडियम बजट वाली कार, जानिए क्या होंगे फीचर्स और कीमत?

कार लेते वक्त ये सावधानियां जरूरी
सेकेंड हैंड कार खरीदते समय यह ध्यान में जरूर रखना चाहिए कि आपको कम से कम 30 किलोमीटर की टेस्ट ड्राइव लेना चाहिए. टेस्ट ड्राइव लेने से पहले कार का टेंपरेचर चेक करना बहुत जरूरी है. टेंपरेचर चेक करने के लिए कार के बोनट पर हाथ रखें, इससे पता चल जाएगा कि आपसे पहले कार को किसी ने चलाया है या नहीं. कार से आने वाली आवाजें परख कर आप कार कमी के बारे में आसानी से जान सकते हैं. इसके लिए कार को स्टार्ट कर न्यूट्रल कर दें. इसके बाद कार के अंदर बैठ कर आवाज और वाइब्रेशन पर ध्यान दें.

ये भी पढ़ें-  पेट्रोल-डीजल की बजाय अब इस चीज से चलेंगी गाड़ियां, जानिए मंत्री नितिन गडकरी ने क्या बताया नया विकल्प

इमरजेंसी ब्रेक सिस्टम जरूर चेक करें
कार की इमरजेंसी ब्रेक टेस्टिंग सेफ्टी के लिहाज से बेहद जरूरी है. इसके लिए आपको टेस्ट ड्राइव करते समय किसी खुले मैदान में भी जाना चाहिए. तेज स्पीड में ब्रेक मारकर आप इमरजेंसी ब्रेक टेस्ट कर सकते हैं. इसके अलावा आपको कार के विंडो अप-डाउन स्विच, म्यूजिक सिस्टम, मिरर फोल्डिंग स्विच, वाइपर, हॉर्न कई बार चेक करें. साथ ही टेस्ट ड्राइविंग के दौरान स्विच, बटन, ब्रेक, क्लच, गियर, एक्सीलेटर अच्छे से चेक करना चाहिए.

Tags: Auto News, Automobile, Car Bike News



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *