म्यूचुअल फंड निवेशकों ने नवंबर में SIP खातों से निकाले ₹10,000 करोड़, जानिए कितना हुआ निवेश


Mutual Funds Investors: अगर आप भी म्यूचुअल फंड (Mutual Funds) में निवेश करके मुनाफा कमाते हैं, तो ये खबर आपको जरूर पढ़नी चाहिए. म्यूचुअल फंड से जुड़ी बड़ी खबर सामने आ रही है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, म्यूचुअल फंड निवेशकों ने साल 2022 के नवंबर माह में सिस्टमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) खातों से 10,000 करोड़ रुपये से अधिक पैसा निकाल लिया है.

लाभ भुनाने के लिए सबसे बेहतर रहा नवंबर

शेयर बाजार (Share Market) में आई तेजी से मुनाफा कमाने के लिए Mutual Funds में लोग निवेश करते हैं. एक रिपोर्ट के मुताबिक, मुंबई स्थित MF डिस्ट्रीब्यूटर सदाशिव फेने का कहना है कि निवेशकों ने महसूस किया कि नवंबर का महीना साल का सबसे बेहतर समय के रूप में साबित हुआ है. अब तक का उच्च स्तर लाभ कमाया जा सकता था. उन्होंने कहा कि डिस्ट्रीब्यूटर साधारण रूप से निवेशकों को बाजार के स्तर ऊपर होने के कारण उन्हें भुनाने से रोकने के लिए पूरी कोशिश करते हैं, लेकिन सभी निवेशक ऐसा नहीं करते हैं. इससे नए एसआईपी निवेश पर कोई खास प्रभाव नहीं पड़ा है.

इतना हुआ निवेश

निकासी में बढ़ोतरी से शुद्ध निवेश में काफी कमी देखी जा रही है. एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (एम्फी) के आंकड़ों के अनुसार, नवंबर माह में निवेशकों ने रिकॉर्ड 13,300 करोड़ रुपये का निवेश किया है. इसमें शुद्ध SIP निवेश 3,260 करोड़ रुपये पर रहा है. मालूम हो कि यह अक्टूबर 2021 के बाद से सबसे कम निवेश है. पिछले महीने, अधिक रकम निकालने के कारण इक्विटी फंडों में शुद्ध निवेश घटकर 2,260 करोड़ रुपये पहुंच गया है.

इक्विटी से निकाला लाभ

वही दूसरी ओर इक्विटी योजनाओं से निवेशकों ने 26,030 करोड़ रुपये निकाले हैं, जो पिछले महीने की तुलना में 60 फीसदी अधिक और सितंबर 2021 के बाद से सबसे अधिक रहा है. शीर्ष दो इक्विटी योजनाओं, फ्लेक्सीकैप और लार्जकैप में शुद्ध निवेश नवंबर में कमजोर रहा है. कई निवेशकों ने लार्जकैप योजनाओं से 1,040 करोड़ रुपये निकाले है. वहीं फ्लेक्सीकैप फंड्स से 860 करोड़ रुपये की निकासी हुई है.

News Reels

ये भी पढ़ें- Layoffs: ऑनलाइन एजुकेशन की कंपनी में हुई छंटनी, 400 कर्मचारियों को निकाला बाहर, जानिए क्या है वजह



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *