मेक्सिको की संप्रभुता से बेहतर कोई संधि नहीं : विदेश मंत्री



डिजिटल डेस्क, मॉस्को। मेक्सिको की संप्रभुता और आत्मनिर्णय पर कोई संधि पूर्वता नहीं ले सकती है, यह बयान विदेश मंत्री मासेली एब्रार्ड ने दिया है।

समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, एब्रार्ड ने शुक्रवार को अमेरिका और कनाडा की शिकायतों के जवाब में यह टिप्पणी की कि मेक्सिको, अमेरिका-मेक्सिको-कनाडा समझौते (यूएसएमसीए) का उल्लंघन कर रहा है।

एब्रार्ड ने कहा कि विदेश मंत्रालय और अर्थव्यवस्था मंत्रालय सरकार की नई ऊर्जा नीति पर अमेरिका और कनाडा की आपत्तियों पर मेक्सिको की प्रतिक्रिया का समन्वय करेंगे, जो उनका दावा है कि मुक्त व्यापार समझौते की शर्तो के खिलाफ है।

उन्होंने आगे कहा है, मेक्सिको देश की संप्रभुता और आत्मनिर्णय का बचाव करने के लिए अपने तर्क पेश करेगा, क्योंकि कोई भी संधि उससे बेहतर नहीं हो सकती है।

साथ ही उन्होंने यह भी कहा, मेक्सिको में सभी प्रकार की अंतर्राष्ट्रीय संधियां हैं, और संधियां बाध्यकारी हैं, लेकिन मुझे आज तक ऐसा कोई निर्णय नहीं दिखता है जो मुक्त व्यापार समझौते की सामग्री के विपरीत बनाया गया हो।

अमेरिका और कनाडा की सरकारों का कहना है कि मेक्सिको ऊर्जा क्षेत्र में भेदभावपूर्ण प्रथाओं का उपयोग कर रहा है जो अंतर्राष्ट्रीय कंपनियों और सीमा पार वितरण को नुकसान पहुंचाते हैं।

यूएसएमसीए के ढांचे के भीतर पक्षों के पास विवाद को सुलझाने के लिए 75 दिनों का समय होता है। एब्रार्ड ने कहा, मैं आशावादी हूं, मैं यह नहीं कह रहा हूं कि यह आसान होने वाला है, लेकिन हम संकल्प और निरंतरता के साथ आगे बढ़ने जा रहे हैं।

आईएएनएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.