मध्य प्रदेश: गरबा स्थल पर पथराव करने के आरोपी तीन मुस्लिमों के घरों पर पुलिस ने बुलडोज़र चलाया



भोपाल: मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में एक गरबा पंडाल में दो समूहों के बीच विवाद होने के बाद पथराव हो गया. पुलिस ने 19 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है, जिनमें से तीन लोगों के घरों को अवैध निर्माण बताकर तोड़ दिया गया.

पुलिस के एक अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि जिले में सीतामऊ थाना क्षेत्र के सुरजानी गांव में दो अक्टूबर की रात को पथराव की घटना हुई, जिसमें चार लोग घायल हो गए.

उन्होंने कहा कि दो गुटों में विवाद के बाद गरबा पंडाल में पथराव की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और स्थिति को काबू में किया.

पुलिस अधीक्षक (एसपी) अनुराग सुजानिया ने संवाददाताओं से कहा कि 19 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है और उनमें से सात को जांच के बाद हिरासत में लिया गया है. उन्होंने कहा कि कुछ आरोपी आदतन अपराधी हैं.

एसपी ने बताया कि मंगलवार को राजस्व विभाग के सहयोग से तीन आरोपियों के 4.5 करोड़ रुपए से अधिक मूल्य के 4,500 वर्ग फुट से अधिक के अवैध निर्माण को ढहा दिया गया है.

पुलिस अधिकारी ने कहा कि पंडाल में पथराव के सिलसिले में भारतीय दंड संहिता की विभिन्न संबंधित धाराओं में मामला दर्ज किया गया है.

पुलिस सूत्रों के अनुसार, सलमान नाम का एक व्यक्ति मोटरसाइकिल पर स्टंट कर रहा था तथा उसके और एक अन्य व्यक्ति के बीच झगड़ा हो गया. बाद में सलमान और उसके सहयोगी गरबा स्थल पर उस व्यक्ति की तलाश में पहुंचे और मामला पथराव में बदल गया.

दैनिक भास्कर के मुताबिक, शिवलाल पाटीदार नाम के एक व्यक्ति ने सलमान खान के पिता से मोटरसाइकिल चलाने के तरीके के बारे में शिकायत की थी. इस पर दोनों के बीच विवाद हो गया. उसके बाद दो अक्टूबर की रात सलमान अपने साथियों के साथ एक गरबा आयोजन स्थल पर उस शख्स की तलाश में पहुंचा.

अखबार के अनुसार, वहां लड़ाई हुई जिसमें सलमान ने शिवलाल के एक साथी महेश को फरसी से मारा.

रिपोर्ट में कहा गया है कि जैसे ही अधिक लोग एकत्र हुए, सलमान और उनके सहयोगियों ने गरबा कार्यक्रम स्थल पर पथराव किया, जिसमें एक महिला घायल हो गई.

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक, महेश पाटीदार और शिवलाल को जिला अस्पताल ले जाया गया जहां उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है.

कई स्थानीय समाचार पत्र ने प्रारंभिक घटना के हिंसक विवाद का उल्लेख किए बिना, मुसलमानों द्वारा एक गरबा स्थल पर पथराव किए जाने के मामले के रूप में रिपोर्ट किया है.

कई समाचार संस्थानों ने इस घटना का वर्णन मुस्लिमों द्वारा गरबा स्थल पर पथराव किए जाने की घटना के रूप में किया है, लेकिन हिंसक विवाद का उल्लेख नहीं किया है.

एसपी अनुराग सुजानिया ने कहा, ‘दो समूहों के बीच विवाद के कारण एक गरबा पंडाल में पथराव की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और स्थिति को नियंत्रित किया.’

जिन तीन आरोपियों के घर तोड़े गए, उनमें सलमान का मकान भी शामिल है.

मंदसौर उप-मंडल मजिस्ट्रेट संदीप शिवा ने कहा, ‘घरों का निर्माण अवैध रूप से किया गया था इसलिए हमने उन्हें ध्वस्त कर दिया. हम सभी आरोपियों की संपत्ति के कागजात की जांच कर रहे हैं और उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी.’

इस मामले में अब तक 11 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *