बच्‍चे की हाइट बढ़ानी है, तो उसे बनाकर खिलाएं दाल से बनी ये रेसिपी, टेस्‍ट और हेल्‍थ का मिलेगा संगम


बच्‍चों के लिए हेल्‍दी खाना बनाना और फिर उन्‍हें खिलाना बहुत मुश्किल होता है। बच्‍चे अक्‍सर खाने में आनाकानी करते हैं और हेल्‍दी खाना तो देखकर ही मुंह बनाने लगते हैं। फिर भी पैरेंट्स को बच्‍चों को हेल्‍दी खाना परोसते रहना चाहिए क्‍योंकि इससे बच्‍चों को धीरे-धीरे इसकी आदत हो जाती है।
आप बच्‍चे के लिए घर पर दाल-चावल का पुलाव या खिचड़ी भी बना सकते हैं। यहां हम आपको बता रहे हैं कि बच्‍चों के लिए दाल-चावल का पुलाव बनाने का क्‍या तरीका है।
आपको इस रेसिपी में नमक नहीं डालना है क्‍योंकि एक साल से छोटे बच्‍चों के खाने में नमक का प्रयोग नहीं किया जाता है।
हम सभी जानते हैं कि दाल प्रोटीन और अन्‍य पोषक तत्‍वों से भरपूर होती है इसलिए इसे खाने से बच्‍चों की सेहत को बहुत फायदा मिलता है। बच्‍चों के विकास के लिए दाल में मौजूद पोषक तत्‍व बहुत लाभ पहुंचाते हैं। इसलिए आपको अपने बच्‍चे के खाने में दाल और चावल के इस पुलाव को जरूर शामिल करना चाहिए।

​क्‍या चाहिए

दो चम्‍मच पीली मूंग दाल, दो चम्‍मच चावल, एक चुटकी हींग, एक चुटकी हल्‍दी, आधा चम्‍मच घिसा हुआ गुड़ और एक साल से बड़े बच्‍चे के लिए नमक स्‍वादानुसार।

यह भी पढ़ें : बच्‍चों की सेहत के लिए जहर है इन Foods का Combination, दूर कर दें नजरों से इन्‍हें

​दाल पुलाव बनाने का तरीका

  • सबसे पहले चावल और दाल को पानी से धो लें।
  • इसे प्रेशर कुकर में डालें और फिर उसमें हींग, हल्‍दी, गुड़ और नमक डाल दें।
  • इसके बाद इसमें डेढ़ कप पानी डालकर पकाएं।
  • अगर पानी ज्‍यादा लग रहा है या आप खिचड़ी थोड़ी गाढ़ी बनाना चाहती हैं, तो कम पानी डालें।

​आगे के स्‍टेप्‍स

  • अब आपको इसे धीमी आंच पर प्रेशर कुकर में 20 से 25 मिनट तक पकाना है। इसमें 8 से 9 सीटी लगा लें।
  • दाल और चावल के पकने के बाद, उसे मैश कर लें।
  • इसे सर्व करें और थोड़ा-सा घी डालकर बच्‍चे को खिलाएं।

यह भी पढ़ें : बच्‍चों के लिए अमृत हैं ये 5 चीजें, नाश्‍ते से लेकर डिनर तक में ऐसे करें शामिल

​ये टिप्‍स आएंगे काम

अगर आपका बच्‍चा एक साल से छोटा है, तो उसके खाने में नमक का इस्‍तेमाल न करें। इस दाल पुलाव या खिचड़ी का स्‍वाद बढ़ाने के लिए आप इसमें नींबू भी निचोड़ सकती हैं।

​बच्‍चों के लिए मूंग दाल के फायदे

मूंग दाल में प्रोटीन बहुत ज्‍यादा होता है जो बच्‍चे के बालों, स्किन, नाखूनों और ग्रोथ के लिए अच्‍छा रहता है।

हरी मूंग दाल में घुलनशील फाइबर होता है जो पाचन को बढ़ावा देता है।

इसमें रेसिस्‍टेंट स्‍टार्च होता है जो पाचन में भी मदद करता है। आयुर्वेद के अनुसार मूंग दाल में आयरन भरपूर मात्रा में होता है जिससे ब्‍लड सर्कुलेशन बढ़ जाता है।

आयरन की वजह से मूंग दाल एनीमिया से भी बचाती है। इसमें फोलिक एसिड भी होता है जो दिमाग की कार्यक्षमता को बढ़ाता है।

यह भी पढ़ें : दो साल के बच्चे के लिए हफ्तेभर का डाइट चार्ट, कमजोरी, दुबलापन और आलस होगा दूर, तेजी से बढ़ेगा बच्चा

​चावल खाने के फायदे

चावल में कार्बोहाइड्रेट होता है जो बच्‍चे को एनर्जी प्रदान करता है। चावल कैल्शियम और मैग्‍नीशियम का भी अच्‍छा स्रोत है जो हड्डियों को स्‍वस्‍थ रखने के लिए जरूरी होता है।

चावल में जिंक, कॉपर और सिलेनियम भी होता है जो शरीर के कई कार्यों में मदद करते हैं।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.