फेक न्यूज एक्सपोज: ओमिक्रॉन XBB अब तक का सबसे घातक वैरिएंट, 5 गुना ज्यादा हो रहीं मौतें? जानिए इस वायरल मैसेज का सच


2 घंटे पहले

क्या हो रहा है वायरल : चीन में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। हालत इतने बदतर हैं कि जहां देखो लाशें ही लाशें दिख रही हैं। इसे लेकर भारत में भी सरकार अलर्ट मोड में आ गई है। कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रही है।

पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि कोरोना से बिगड़ते हालात का जिम्मेदार कोविड का नया वैरिएंट ओमिक्रॉन XBB है। इस वैरिएंट की चपेट में आ रहे लोगों को खांसी या बुखार नहीं होता। इस वैरिएंट के लक्षण- जोड़ों का दर्द, सिरदर्द, गर्दन में दर्द, ऊपरी कमर दर्द, निमोनिया, भूख ना लगना है। ये वैरिएंट कोरोना का सबसे घातक वैरिएंट है। वहीं, इस वैरिएंट से हो रही मौतें 5 गुना ज्यादा हैं।

फेक न्यूज के खिलाफ हमारे साथ जुड़ें। वायरल वीडियो, फोटो या मैसेज का सच जानने के लिए वॉट्सऐप करें – 7879152202

ये मैसेज जांच के लिए हमें भास्कर हेल्पलाइन पर भी मिला।

और सच क्या है?

  • पड़ताल की शुरुआत में हमने चीन में कोरोना से मची तबाही के पीछे का कारण ढूंढना शुरू किया। सर्च करने पर हमें इस मामले से जुड़ी कई मीडिया रिपोर्ट्स मिली।
  • मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चीन में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामलों के पीछे कोविड-19 ओमिक्रॉन का वैरिएंट BF.7 है। WHO के अधिकारियों का कहना है कि ये अब तक का सबसे तेज फैलने वाला वैरिएंट है।
  • कोविड-19 ओमिक्रॉन के कई सब वैरिएंट हैं, जैसे- BA.1, BA.2, BA.5 वगैरह। ओमिक्रॉन का ऐसा ही एक लेटेस्ट सब वैरिएंट है BA.5.2.1.7 जिसे शॉर्ट में BF.7 कह रहे हैं। एक्सपर्ट्स के मुताबिक इसी म्यूटेशन की वजह से इस वैरिएंट पर एंटीबॉडी का असर नहीं होता।
  • एक्सपर्ट्स के मुताबिक, ओमिक्रॉन के वैरिएंट BF.7 के लक्षण- भुखार, थकान, गले में खराश, खांसी, नाक बहना, सीने में दर्द, कम सुनाई देना, पेट में दर्द, उल्टी-दस्त हैं।
  • इससे साफ होता है कि चीन में कोरोना से मची तबाही का कारण XBB नहीं, बल्कि ओमिक्रॉन का वैरिएंट BF.7 है।
  • पड़ताल के दौरान हमें स्वास्थ्य मंत्रालय के ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर ओमिक्रॉन XXB से जुड़ी एक पोस्ट भी मिली।

  • इस पोस्ट में ओमिक्रॉन XBB के नाम से वायरल हो रहे मैसेज को स्वास्थ्य मंत्रालय ने फेक बताया है। इस पोस्ट में लिखा है- कुछ वॉट्सऐप ग्रुप में ओमिक्रॉन XBB से जुड़ा मैसेज शेयर किया जा रहा है। ये मैसेज पूरी तरह फेक और भ्रामक है।
  • साफ है कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रही पोस्ट फेक है।

सितंबर में भारत आ गया था कोरोना का चीनी वैरिएंट:गुजरात में 2, ओडिशा में एक केस मिला, तीनों ठीक; एयरपोर्ट्स पर रैंडम सैंपलिंग शुरू+

चीन में कोरोना के बढ़ते मामले फिर डराने लगे हैं। इसे देखते हुए केंद्र सरकार अलर्ट पर है। देश में COVID-19 की स्थिति पर बुधवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया ने वरिष्ठ अधिकारियों और विशेषज्ञों के साथ बैठक की।

मंडाविया ने बताया कि कोरोना का खतरनाक चीनी वैरिएंट BF-7 सितंबर महीने में ही भारत आ गया था। वडोदरा में एक NRI महिला में इसके लक्षण मिले थे। वह अमेरिका से वडोदरा आई थी। उसके कॉन्टैक्ट में आए 2 अन्य लोगों की भी जांच हुई थी। हालांकि उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। बाद में महिला ठीक हो गई थी। इसके अलावा BF-7 के दो अन्य केस अहमदाबाद और ओडिशा में भी मिले थे। पढ़ें पूरी खबर…



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *