पोर्नोग्राफी केस: सुप्रीम कोर्ट का आदेश- गहना वशिष्ठ की गिरफ्तारी नहीं होगी, लेकिन एक्ट्रेस जांच में सहयोग करें


6 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

एक्ट्रेस गहना वशिष्ठ तब से सुर्खियां बटोर रही हैं, जब उनका नाम पोर्नोग्राफी मामले में आया है। ये वही मामला है जिसमें राज कुंद्रा को गिरफ्तार किया गया था। बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने इसी मामले में गहना को सुरक्षा प्रदान की है, जिसमें अब तक कई गिरफ्तारियां हो चुकी हैं। इसके साथ ही उन्हें केस से जुड़ी जांच में सहयोग करने की हिदायत दी गई है।

इस बीच गहना ने राज कुंद्रा के जेल से बाहर आने पर उनके लिए सोशल मीडिया वेलकम मैसेज भी पोस्ट किया और उन्हें बहादुर बताया।

133 दिन हिरासत में रहीं गहना
गहना वशिष्ठ के वकील अजीत वाघ ने बेंच को बताया कि अभियोजन पक्ष ने कहा था कि गहना को अरेस्ट करने की जरूरत है क्योंकि एक पोर्न रैकेट का पता लगाना था। उन्होंने यह भी कहा कि पहली FIR एक टिप पर आधारित थी और यास्मीन को पकड़ लिया गया था। गहना 133 दिन हिरासत में रहीं हैं। पहली FIR में चार्जशीट दाखिल कर दी गई है। और बाकी मटेरियल समान है।

गौरतलब है कि गहना के खिलाफ पोर्न कंटेंट बनाने और कुछ ओटीटी प्लेटफॉर्म पर अपलोड करने के लिए कुल तीन FIR दर्ज हैं। उन्हें दो FIR में जमानत हासिल कर ली है और जुलाई में मुंबई पुलिस ने तीसरी FIR दर्ज की थी।

सप्रीम कोर्ट ने दिया आदेश
मामले की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने फैसला किया कि उसे तीसरी FIR के लिए गिरफ्तार नहीं किया जाना चाहिए और उसे चल रही जांच में सहयोग करना चाहिए और जब भी आवश्यकता हो उपस्थित होना चाहिए। शीर्ष अदालत ने बॉम्बे हाई कोर्ट के उस आदेश पर भी रोक लगा दी, जिसमें इस महीने की शुरुआत में उनकी अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी गई थी।

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *