पटना के मोस्ट वॉन्टेड क्रिमिनल को बिहार STF ने नागपुर से दबोचा, 14 साल से था फ़रार


पटना. बिहार की राजधानी पटना का मोस्ट वॉन्टेड अपराधी (Most Wanted Criminal) रवि गोप को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. 50 हजार रुपये के इस इनामी अपराधी को बिहार एसटीएफ (Bihar STF) ने महाराष्ट्र के नागपुर से पकड़ा है. कुख्यात रवि गोप पिछले लगभग 14 साल से फरार चल रहा था. पुलिस के डर से उसने बिहार छोड़ दिया था. पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार रवि गोप कई संगीन मामलों में आरोपी है. वो नागपुर में रह कर पटना में अपराध (Bihar Crime) की दुनिया को संचालित कर रहा था. वो खुद को पुलिस की नजर से बचाने के लिए यहां स्क्रैप का बिजनेस करता था. रवि गोप ने महाराष्ट्र के साथ अपनी जड़ें गोवा तक फैला रखी थी.

रवि गोप साल 2008 से फरार चल रहा था. बिहार एसटीएफ की टीम पिछले कई महीनों से उसकी जानकारी जुटा रही थी, जब उसके नागपुर में छिपे होने का पता चला तो पटना से एसटीएफ की एक टीम नागपुर पहुंची और महाराष्ट्र पुलिस के सहयोग से रवि गोप को दबोच लिया गया. पुलिस गिरफ्तार रवि गोप को लेकर नागपुर से पटना पहुंच गई है. रवि का आतंक पटना के राजेंद्र नगर रोड नंबर 1 में काफी दिनों तक रहा था. वो इसी इलाके का रहने वाला है और बम फेंकने में एक्सपर्ट है. पुलिस के मुताबिक उसने बम मारकर कर कई हत्याकांड को अंजाम दिया है. पटना के गोविंद मित्रा रोड से लेकर दाना और नाला रोड के फर्नीचर व्यवसायी उसके भय से कांपते थे. नागपुर में होने के बावजूद वो पटना के कारोबारियों को धमकी देकर उनसे वसूली करता था. इस दौरान मिली शिकायत के आधार पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया.

एसटीएफ की मानें तो नाला रोड में बीजेपी के नेता क्रांति की हत्या भी रवि गोप ने की थी. इसके अलावा संग्राम सिंह और अशोक गुप्ता हत्याकांड में भी उसका नाम आया था. रवि गोप के खिलाफ पटना के तीन थानों में 16 एफआईआर दर्ज हैं. इनमें अकेले कदमकुआं थाने में एक दर्जन केस दर्ज हैं जबकि पीरबहोर में तीन और फुलवारी शरीफ थाना में एक एफआईआर दर्ज है. शूटर गुड्डू शर्मा जिसे पुलिस ने दिल्ली में वर्ष 2005 में मार गिराया था, वो रवि गोप का राइटहैंड था.

Tags: Bihar News in hindi, Bihar police, Crime News, Patna Police



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.