पंजाब में राजनीतिक संकट बढ़ा, हरीश रावत फिर बोले, ‘अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में लड़ेंगे 2022 का चुनाव’


कांग्रेस नेता हरीश रावत की फाइल फोटो | ANI


Text Size:

चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के खिलाफ बगावती रुख अपनाने के एक दिन बाद चार कैबिनेट मंत्री बुधवार को देहरादून में अखिल भारतीय कांग्रेस समिति (एआईसीसी) के महासचिव हरीश रावत से मुलाकात करने पहुंचे.

मुलाकात के बाद पंजाब एआईसीसी चीफ हरीश रावत ने कहा, ‘साढ़े चार साल निकल चुके हैं और ये अच्छे थे. लेकिन हमें इस बात पर विचार करना है कि अचानक क्या हुआ कि बड़ी संख्या में विधायक इतने परेशान हैं. हम देखेंगे और इसका समाधान ढूंढेंगे.’

रावत बोले, हम कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में 2022 का पंजाब चुनाव लड़ेंगे.

उन्होंने आगे कहा, ‘जब हम पीसीसी में बदलाव लाए, तो हमें संभावित मुद्दों के बारे में एक विचार आया जो सामने आ सकता है. हम कोई समाधान निकालेंगे.’

रावत ने आगे कहा, ‘सोनिया गांधी और राहुल गांधी पर सभी को भरोसा है. हम मामले को देखेंगे और इसे सुलझाने की कोशिश करेंगे.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें