पंजाब में गुरुद्वारे के ‘ग्रंथी’ से मारपीट, चेहरे पर कालिख पोत पेशाब फेंका


पंजाब में गुरुद्वारे के 'ग्रंथी' से मारपीट, चेहरे पर कालिख पोत पेशाब फेंका

चंडीगढ़:

पंजाब के मलेरकोटला जिले के एक गुरुद्वारे के ग्रंथी ने आरोप लगाया है कि उसे पीटा गया है, उसके चेहरे पर कालिख पोती गई और उस पर पेशाब फेंका गया. अब्दुल्लापुर चुहाने गांव के गुरुद्वारे के ग्रंथी हरदेव सिंह ने अपनी पुलिस शिकायत में आरोप लगाया कि 14 अगस्त को कुछ स्थानीय लोगों ने उनकी पिटाई की थी. पुलिस ने कहा कि उसने पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है और उनमें से दो को गिरफ्तार कर लिया गया है.

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, “विभिन्न आईपीसी धाराओं के तहत एक मामला, जिसमें 365 (अपहरण), 355 (अपमान के इरादे से हमला या आपराधिक बल), 323 (स्वेच्छा से चोट पहुंचाने की सजा) और 506 (आपराधिक धमकी के लिए सजा) और अनुसूचित जाति/जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम, के तहत मामला दर्ज किया गया है.”

ग्रंथी हरदेव सिंह ने आरोप लगाया कि उसका चेहरा काला कर दिया गया था और उसे पेशाब पीने के लिए मजबूर किया गया था. उसने विरोध किया तो मग में रखा पेशाब उसके चेहरे पर फेंक दिया. सिंह ने कहा कि घटना का एक वीडियो भी बनाया गया था.

इस बीच, आरोपी ने दावा किया कि गांव में एक महिला को नियमित रूप से फोन करने के लिए दलित पुजारी के साथ मारपीट की गई.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.