न्यायिक जांच रिपोर्ट: गैंगस्टर विकास दुबे पर दर्ज 65 में से 21 मुकदमों की फाइलें गायब


कानपुर. बिकरू कांड (Bikru Shootout) के मुख्य आरोपी और एनकाउंटर में मारे गए गैंगस्टर विकास दुबे (Gangster Vikas Dubey) के मददगार रहे पुलिसकर्मियों (Policemen) की शिनाख्त हो चुकी है और एसआईटी जांच के बाद खाकी को दागदार करने वालों की सजा भी तय हो गई है. गैंगस्टर के मददगार के रूप में 37 पुलिसकर्मी जांच में दोषी पाए गए हैं. इनमें 1996 से लेकर 2020 तक वे सभी पुलिसकर्मी शामिल हैं, जिन्होंने कहीं न कहीं विकास दुबे को कानून के शिकंजे से निकालने का काम किया या फिर उसके काले कारनामों पर पर्दा डाला है.

सात सदस्यीय एसआईटी जांच की अगुवाई कर रहे आईजी रेंज मोहित अग्रवाल ने बताया कि इस घटना के बाद तत्कालीन डीआईजी अनंत देव तिवारी समेत 11 सीओ को भी दोषी पाया गया था. इनकी जांच शासन स्तर से हो रही है. यहां पर जो सूची तैयार की गई है, उसमें इंस्पेक्टर से लेकर सिपाही पद के लोग शामिल हैं. कार्रवाई होने के बाद इसकी रिपोर्ट एडीजी जोन के जरिए शासन को भेजी जाएगी। कार्रवाई की जो सूची तैयार की गई है उसमें 37 पुलिसकर्मी शामिल हैं, जिनमें से दो की मौत हो चुकी है, जबकि चार रिटायर हो चुके हैं.

इनका दोष सिद्ध
जांच में एसआई चौबेपुर अजहर इशरत, वीरपाल सिंह, विश्वनाथ मिश्रा, सिपाही अभिषेक कुमार का दोष सिद्ध हो चुका है. इन्हें नोटिस जारी किया गया है. सिपाही राजीव कुमार को मिस कंडक्ट दिया गया है. वहीं पूर्व एसओ चौबेपुर विनय कुमार तिवारी, हल्का इंचार्ज केके शर्मा के बयान न होने के कारण फैसला नहीं लिया गया है. एसआई थाना कृष्णा नगर लखनऊ अवनीश कुमार सिंह की भी जांच जारी है.

इन्हें दिया गया मिस कंडक्ट
पूर्व एसआई चौबेपुर दीवान सिंह, पूर्व हेड कांस्टेबल चौबेपुर लायक सिंह, सिपाही विकास कुमार और कुंवरपाल को मिस कंडक्ट दिया गया है. इंस्पेक्टर बजरिया राममूर्ति यादव को नोटिस जारी किया गया है. थाना कृष्णा नगर लखनऊ के पूर्व एसओ अंजनी कुमार पांडेय की जांच जारी है.

दो की मौत, चार रिटायर
विकास दुबे के जो मददगार रहे हैं, उनमें से तत्कालीन थाना इंचार्ज एसके वर्मा और थाना इंचार्ज चौबेपुर संजय सिंह की मृत्यु हो चुकी है. इसके अलावा पूर्व थाना इंचार्ज बजरिया काजी मोहम्मद इब्राहिम, पूर्व इंचार्ज चौबेपुर लालमणि सिंह, वेद प्रकाश, तत्कालीन थाना इंचार्ज रूरा धर्मवीर सिंह, पूर्व एलआईयू बीट प्रभारी कल्याणपुर सुरेश कुमार तिवारी रिटायर हो चुके हैं. उसके बाद भी इनकी जांच जारी है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *