नेपाल में 3 नाबालिगों से रेप करने वाला चीनी गिरफ्तार: 49 साल के आरोपी ने तीनों लड़कियों को बंधक बनाया, नौकरी का लालच देता था


काठमांडू2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
काठमांडू में महिला अपराधों की जांच के लिए अलग यूनिट बनाई गई है। (फाइल) - Dainik Bhaskar

काठमांडू में महिला अपराधों की जांच के लिए अलग यूनिट बनाई गई है। (फाइल)

नेपाल पुलिस ने 49 साल के चीनी नागरिक को तीन नाबालिग लड़कियों से रेप के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस कई दिन से लापता हुईं तीनों लड़कियों की तलाश कर रही थी। इस दौरान उसे ललितपुर जिले के बुंगमती एरिया के एक बंद घर के बारे में जानकारी मिली।

इस घर की तलाशी ली गई तो तीन नाबालिग लड़कियां मिलीं। इन्हें बंधक बनाकर रखा गया था। यह घर एक चीनी नागरिक ने किराए से ले रखा था। उसे पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया गया।

पिछले साल भी चीन के एक नागरिक को रेप के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। नेपाल में चीन के नागरिकों का इस तरह की हरकतों में शामिल रहने के बाद बहुत तेजी से विरोध बढ़ रहा है।

नेपाल सरकार ने महिलाओं के खिलाफ अपराध को रोकने के लिए ज्यादातर बड़े शहरों में महिला पुलिस थाने खोले हैं। (फाइल)

नेपाल सरकार ने महिलाओं के खिलाफ अपराध को रोकने के लिए ज्यादातर बड़े शहरों में महिला पुलिस थाने खोले हैं। (फाइल)

विक्टिम्स में एक बच्ची की उम्र 13 साल

  • नेपाल के अखबार ‘द हिमालयन टाइम्स’ ने चीनी नागरिक को गिरफ्तार किए जाने की जानकारी दी है। अखबार की इन्वेस्टिगेटिव रिपोर्ट के मुताबिक- जिन तीन नाबालिग लड़कियों को पुलिस ने बुंगमती एरिया के मकान से छुड़ाया है, उनमें से एक की उम्र तो महज 13 साल है।
  • पुलिस ने कहा- तीनों लड़कियां गरीब परिवार से ताल्लुक रखती हैं और चीन के नागरिक ने उन्हें अच्छी नौकरी और बेहतर लाइफ स्टाइल का झांसा देकर जाल में फंसाया। उसने इन लड़कियों को कई बार पैसे भी दिए।
  • आरोपी की पहचान 49 साल के यांग लिमिंग के तौर पर हुई है। वो मूल रूप से चीन के फुजियान प्रांत का रहने वाला है। यांग कई साल से नेपाल आता रहा है। हालांकि, इस दौरान वो किसी एक जगह टिककर नहीं रहता था।
अप्रैल 2019 में न्यूज एजेंसी से बातचीत करती पाकिस्तान की मेहर लियाकत। मेहर की शादी धोखे से एक चीनी नागरिक से कराई गई थी।

अप्रैल 2019 में न्यूज एजेंसी से बातचीत करती पाकिस्तान की मेहर लियाकत। मेहर की शादी धोखे से एक चीनी नागरिक से कराई गई थी।

कई और लड़कियों को शिकार बनाया
पुलिस ने एक बयान में कहा- आरोपी नेपाल के कई हिस्सों में रहा है। हमें शक है कि उसने इसी तरह कुछ और लड़कियों को अपने जाल में फंसाया। हम इन लड़कियों की तलाश कर रहे हैं ताकि आरोपी के खिलाफ मजबूत केस बनाया जा सके। वो हर इलाके में किराए का मकान लेकर रहता और यहां इन लड़कियों से रेप करता। पुलिस के मुताबिक, बाकी दो लड़कियों की उम्र 17 और 14 साल है।

चीनी नागरिकों की बढ़ती हरकतों के खिलाफ नेपाल में काफी नाराजगी है और इसी वजह से जांच सेंट्रल इन्वेस्टिगेशन ब्यूरो को सौंप दी गई गई है। फिलहाल, उसका वीजा रद्द कर दिया गया और वो पुलिस रिमांड पर है।

यह फोटो मई 2021 में पाकिस्तान के एक जर्नलिस्ट ने सोशल मीडिया पर शेयर की थी। जर्नलिस्ट के मुताबिक, गरीब पाकिस्तानी पैसे के लालच में अपनी बेटियों की शादी चीनी नागरिकों से करते हैं। कुछ महीनों बाद यह शादियां टूट जाती हैं।

यह फोटो मई 2021 में पाकिस्तान के एक जर्नलिस्ट ने सोशल मीडिया पर शेयर की थी। जर्नलिस्ट के मुताबिक, गरीब पाकिस्तानी पैसे के लालच में अपनी बेटियों की शादी चीनी नागरिकों से करते हैं। कुछ महीनों बाद यह शादियां टूट जाती हैं।

पाकिस्तानी लड़कियों को भी जाल में फंसाते हैं चीनी

  • 2020 में पाकिस्तान की होम मिनिस्ट्री ने बताया था कि एक साल में 629 पाकिस्तानी लड़कियां शादी के नाम पर चीन नागरिकों को बेच दी गईं। यह आंकड़ा आधिकारिक तौर पर पुलिस और गृह मंत्रालय के पास फाइलों में दर्ज है। लेकिन, पाकिस्तान सरकार चीन के अहसानों तले इतनी दबी है कि वो आधिकारिक तौर पर कुछ कहना ही नहीं चाहती। पुलिस ने इन नकली शादियों और लड़कियों की खरीद-फरोख्त के खिलाफ मुहिम चलाई थी, लेकिन सरकार के दबाव में इसे रोक दिया गया। न्यूज एजेंसी ‘एपी’ ने इस बारे में एक इन्वेस्टिगेटिव रिपोर्ट भी पब्लिश की थी।
  • चीन ने पाकिस्तान को करोड़ों डॉलर कर्ज के तौर पर दिए हैं। सीपेक पर 75 करोड़ डॉलर खर्च होने हैं और यह पैसा चीन खर्च कर रहा है। यही वजह है कि अधिकारियों पर इन मामलों को दबाने का दबाव डाला जाता है। चीनियों का शिकार बनने वाली ज्यादातर लड़कियां ईसाई समुदाय की हैं। कुछ लड़कियों को जिस्मफरोशी के लिए भी मजबूर किया गया।
  • एक अमेरिकी डिप्लोमैट के मुताबिक, पाकिस्तान हिंदू और ईसाई लड़कियों को चीन में दासी बताकर उनकी मार्केटिंग करता है। यह आरोप सैमुअल ब्राउनबैक ने लगाया था। वो US एडमिनिस्ट्रेशन में रिलीजियस फ्रीडम डिपार्टमेंट के अफसर हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *