दुर्गा पूजा ने बंगाल के कोविड की पॉजिटिविटी रेट को 2.5 तक पहुंचाया, लेकिन सरकार का कहना है कि बीमारी कम गंभीर है


एक महिला कोविड-19 टेस्ट कराते हुए | फोटो: एएनआई


Text Size:

कोलकाता: पिछले एक पखवाड़े में, 15 अक्टूबर को दुर्गा पूजा समाप्त होने के बाद से, पश्चिम बंगाल में एक बढ़ता हुआ कोविड ग्राफ देखा गया है. पॉजिटिविटी रेट लगभग दोगुनी हो गई है, जो त्योहार से पहले लगभग 1 नवंबर को 1.4 से 2.5 हो गई है.

राज्य प्रतिदिन लगभग 800 नए मामले दर्ज कर रहा है, जिसमें कोलकाता में प्रतिदिन 200 मामलों में सबसे अधिक संक्रमण दर्ज किया गया है.

हालांकि, पश्चिम बंगाल के स्वास्थ्य विभाग के शीर्ष अधिकारियों का दावा है कि स्थिति नियंत्रण में है, क्योंकि अधिकांश मामले डेल्टा स्ट्रेन के AY वैरिएंट के संक्रमण हैं, जो विशेषज्ञों के अनुसार, ‘कम विषैला और कम गंभीरता वाला’ है. डॉक्टर कम गंभीर संक्रमण को भी टीकाकरण को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं.

बंगाल दुर्गा पूजा से पहले अक्टूबर में औसतन लगभग 600 नए मामले दर्ज कर रहा था, लेकिन बाद में यह संख्या औसतन लगभग 800 हो गई.

राज्य में लगभग 8,146 सक्रिय मामले हैं, जिनमें से केवल 1,191 लोग अस्पताल में भर्ती हैं.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें