दिल्ली में 10 साल से ज्यादा पुराने एक लाख डीजल वाहनों का रजिस्ट्रेशन रद्द


Photo:PIXABAY

दिल्ली में 10 साल से ज्यादा पुराने एक लाख डीजल वाहनों का रजिस्ट्रेशन रद्द

Highlights

  • डीजल वाहनों में इलेक्ट्रिक किट फिट कराने या अन्य राज्यों में बेचने का विकल्प
  • डीजल वाहन सड़कों पर दौड़ता हुआ पाया तो जब्त कर स्क्रैपिंग के लिए भेज दिया जाएगा

नई दिल्ली: दिल्ली सरकार ने शनिवार को 10 साल पुराने एक लाख से अधिक डीजल वाहनों का पंजीकरण रद्द कर दिया, जिससे उनके मालिकों के पास या तो उसमें इलेक्ट्रिक किट फिट कराने या अन्य राज्यों में बेचने का विकल्प है । अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी। दिल्ली परिवहन विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आने वाले दिनों में 15 साल से पुराने पेट्रोल वाहनों का भी पंजीकरण रद्द किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ऐसे पुराने पेट्रोल वाहनों की संख्या 43 लाख से अधिक होने का अनुमान है, जिसमें 32 लाख दोपहिया और 11 लाख कारें शामिल हैं।

परिवहन विभाग ने चेतावनी दी है कि अगर 10 साल पुराना डीजल वाहन या 15 साल से पुराना पेट्रोल वाहन अगर सड़कों पर दौड़ता हुआ पाया जाता है तो उसे जब्त कर स्क्रैपिंग के लिए भेज दिया जाएगा। अधिकारी ने बताया कि दस साल पुराने एक लाख से अधिक डीजल वाहनों का दिल्ली सरकार ने पंजीकरण रद्द कर दिया है। उन्होंने बताया कि अब उनके पास दो विकल्प है कि वह अपने वाहनों में इलेक्ट्रिक किट फिट करायें अथवा एनओसी लेने के बाद उसे दूसरे राज्यों में बेच दें।

परिवहन विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि 15 साल से अधिक पुराने वाहनों का पंजीकरण आने वाले दिनों में रद्द किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ऐसे पुराने पेट्रोल वाहनों की संख्या 43 लाख से अधिक होने का अनुमान है, जिसमें 32 लाख दोपहिया और 11 लाख कारें शामिल हैं।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.