जिस दिन शैंपू करती हूं उस दिन बाल बहुत झड़ते हैं…


मिथक: शैम्पू करने से बाल गिरते हैं

मिथक: शैम्पू करने से बाल गिरते हैं

यह धारणा है कि शैम्पू करने से सिर से असेंशियल ऑयल निकल जाता है और बाल झड़ने लगते हैं। लेकिन यह सिर्फ मिथक है। वास्तव में, नियमित सफाई से स्‍कैल्‍प को स्वस्थ बनाए रखने में मदद मिलती है।

मिथक: सीधी धूप बालों के लिए हानिकारक है

मिथक: सीधी धूप बालों के लिए हानिकारक है

सीधी धूप आपकी त्‍वचा के लिए हानिकारक है, लेकिन आपके बालों से इसका कोई संबंध नहीं है। धूप किसी भी तरह आपके रोम को प्रभावित नहीं करती है। धूप के लगातार संपर्क में रहने से आपके बाल कभी नहीं झड़ते।

मिथक: विटामिन खाने से बाल झड़ना रुक सकते हैं

मिथक: विटामिन खाने से बाल झड़ना रुक सकते हैं

कई लोग मानते हैं कि विटामिन बालों का झड़ना रोकते हैं। तो आपको बता दें कि यह आधा सच है। विटामिन आपके सारे बाल दोबारा उगा सकते हैं, वो भी तब जब वास्‍तव में बालों में पोषक तत्‍वों की कमी हो। ध्‍यान रखें कि बहुत अधिक विटामिन-E लेने से बालों के झड़ने की प्रक्रिया तेज हो सकती है।

मिथक: सिर पर टोपी लगाने से बाल झड़ने लगते हैं

मिथक: सिर पर टोपी लगाने से बाल झड़ने लगते हैं

सबसे आम गलतफहमियों में से एक यह है कि टोपी पहनने से बाल झड़ते हैं। पर ऐसा नहीं है। टोपी पहनने से सीधे तौर पर बाल नहीं झड़ते। बालों के रोम स्‍कैल्‍प में गहराई से जुड़े होते हैं और सिर पर पहनने से बाहरी दबाव उनकी मजबूती को प्रभावित नहीं करता है।

मिथक: केवल टेंशन लेने से ही बाल झड़ते हैं

मिथक: केवल टेंशन लेने से ही बाल झड़ते हैं

अक्सर कहते हैं कि तनाव के कारण बाल झड़ते हैं। तनाव निश्चित रूप से बालों के झड़ने में योगदान देता है, क्योंकि यह बालों की नेचुरल ग्रोथ साइकिल को प्रभावित करता है। लेकिन हेयर फॉल का यही एकमात्र कारण नहीं है। बालों का झड़ना आनुवंशिकी, हार्मोनल असंतुलन, पोषण संबंधी कमियों की वजह से भी हो सकता है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *