घंटों तक एक ही पोजीशन में बैठने से हो सकती है ये गंभीर समस्या, दिमाग की नसों तक को कर देती है डैमेज


लोग घंटों तक अपने ऑफिस और घरों में बैठे रहते हैं जिसकी वजह से उन्हें स्पॉन्डिलाइटिस की समस्या झेलनी पड़ रही हैं। स्पॉन्डिलाइटिस एक ऐसी समस्या है जिसमें गर्दन से शुरू होकर पीठ तक दर्द और जकड़न बनी रहती है। यह समस्या आमतौर पर लंबे समय तक एक ही पॉजीशन में बैठने के कारण होती हैं।

आजकल लोगों की जिंदगी के जीने का तरीका काफी तेजी से बदल रहा है। लोग घंटों तक अपने ऑफिस और घरों में बैठे रहते हैं जिसकी वजह से उन्हें स्पॉन्डिलाइटिस की समस्या झेलनी पड़ रही हैं। स्पॉन्डिलाइटिस एक ऐसी समस्या है जिसमें गर्दन से शुरू होकर पीठ तक दर्द और जकड़न बनी रहती है। यह समस्या आमतौर पर लंबे समय तक एक ही पॉजीशन में बैठने के कारण होती हैं। कई बार यह समस्या हड्डियों के खिसक जाने की वजह से भी उभर आती है। वैसे तो यह एक आम समस्या है लेकिन सही वक्त पर इसका इलाज नहीं किया जाए तो इसकी एडवांस स्टेज में लंग्स, हार्ट पर बुरा प्रभाव और साथ ही ब्रेन की नसें तक डैमेज हो सकती है। आज के इस आर्टिकल में हम आपको इससे बचने के उपाय बताएँगे।

इसे भी पढ़ें: पत्नी इन हालातों में शारीरिक संबंध बनाने से कर सकती है मना, 66 प्रतिशत पतियों ने भी जताई सहमति

इन वजहों से हो सकती है स्पॉन्डिलाइटिस की समस्या

– खराब डाइट लेना

– गलत पॉश्चर में बैठना

– वर्कआउट ना करना

– यूरिक एसिड का बढ़ना

– कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना

इसे भी पढ़ें: शारीरिक संबंध बनाने के बाद इन 4 बातों का ध्यान रखें महिलाएं वरना झेलनी पड़ सकती हैं ये परेशानियां

इन तरीकों से करें अपना बचाव-

शराब से बचें- शराब हड्डियों को कमजोर कर देती है। इसलिए अगर आप स्पॉन्डिलाइटिस से अपना बचाव करना चाहते हैं तो शराब का सेवन करने से बचें या फिर अधिक मात्रा में इसका सेवन न करें।

कैल्शियम और विटामिन डी का सेवन करें- स्पॉन्डिलाइटिस से बचने के लिए आपकी हड्डियों का मजबूत होने बेहद जरुरी है। इसलिए कैल्शियम और विटामिन डी  का सेवन करें। कैल्शियम हड्डियों के निर्माण में मदद करता है और विटामिन डी हड्डियों में कैल्शियम के अवशोषण के लिए महत्वपूर्ण है।

इसे भी पढ़ें: शारीरिक संबंध बनाने के दौरान कितना जरुरी है ऑर्गेज्म तक पहुंचना? जानें एक्सपर्ट्स की राय

एक्सरसाइज करें- स्पॉन्डिलाइटिस से बचने के लिए जरुरी है कि आप रोजाना एक्सरसाइज करें। इसके लिए आप स्ट्रेचिंग करते रहें और ध्यान रहें कि घंटों बैठे रहने के बीच में शरीर में थोड़ी बहुत मूमेंट करना जरुरी है।

पूरी नींद लें- पर्याप्त नींद लेने से आप कई तरह की बीमारियों से बच सकते हैं, जिनमें से स्पॉन्डिलाइटिस भी एक है। स्पॉन्डिलाइटिस से बचने के लिए आप पूरी नींद लें और इसके साथ ये भी ध्यान रखें कि आपका सही गद्दे पर सोना भी जरुरी है।

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.