गौतम अडानी कैसे बने बिजनेस टाइकून, देखें आम आदमी से दुनिया के तीसरे अमीर शख्स बनने का सफर


Gautam Adani Net Worth in Billion: इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब कोई एशियाई ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स (Asian Bloomberg Billionaires Index) के टॉप 3 में भारतीय शामिल हो गया है. दुनिया के तीसरे सबसे बड़े और देश के टॉप बिज़नेस मैन गौतम अडानी ने एक सामान्य जीवन से अपनी शुरुआत की है. अडानी ने बर्नार्ड अरनॉल्ट (Bernard Arnault), बिल गेट्स (Bill Gates) और वॉरेन बफेट (Warren Buffett) जैसे दिग्गजों को पछाड़ दिया है. अब अडानी विश्व के तीसरे नंबर के सबसे अमीर आदमी बनने का गौरव हासिल कर चुके हैं. गौतम अडानी ने 137 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ बर्नार्ड अरनॉल्ट को पीछे कर दिया है.

कॉलेज किया था ड्रापआउट 
एक आम आदमी से एक बिजनेस टाइकून बनने तक की उनकी यात्रा बेहद रोमांचक है. आपको बता दे कि अडानी ने कॉलेज छोड़ने से लेकर अपना हीरा कारोबार शुरू करने तक का सफर नए युवाओ के लिए प्रेरणादायक है. आज के दौर में अडानी के पास पोर्ट से लेकर एनर्जी, हरित ऊर्जा और अन्य उद्योग है.

ग्रीन एनर्जी
अडानी अपने कई उपक्रमों के साथ रिन्यूएबल एनर्जी का एक प्रमुख उत्पादक बनने का लक्ष्य लेकर चल रहे है. अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड को भारत की सबसे बड़ी नवीकरणीय कंपनियों में से एक होने का दर्जा मिला है. अभी इसके पास 20,434 मेगावाट का प्रोजेक्ट पोर्टफोलियो है.

प्राकृतिक गैस
अडानी ने वेलस्पन एंटरप्राइजेज लिमिटेड के साथ संयुक्त उद्यम भारत में प्राकृतिक गैस के भंडार की खोज और विकास के लिए काम कर रहा है. साल 2021 में, कंपनी ने मुंबई तट के पास प्राकृतिक गैस के भंडार की खोज करने का दावा किया है. 714.6 वर्ग किलोमीटर चौड़ा ब्लॉक मुंबई अपतटीय बेसिन के ताप्ती-दमन सेक्टर में स्थित है.

कई क्रिकेट फ्रैंचाइज़ी 
अडानी ग्रुप की अडानी स्पोर्ट्सलाइन ने फ्रैंचाइज़ी क्रिकेट-बी में अपना पहला निवेश मई 2022 में संयुक्त अरब अमीरात के प्रमुख टी-20 लीग में एक फ्रैंचाइज़ी के स्वामित्व और संचालन के अधिकार प्राप्त करने के लिए किया था. जिसके बाद कंपनी ने गुजरात जायंट्स, एक लीजेंड्स लीग क्रिकेट टीम का अधिग्रहण करके अपना दूसरा निवेश किया.

इतने है घर 
गौतम अडानी ने लुटियंस दिल्ली में 2020 में एक 400 करोड़ रुपया की हवेली खरीदी है. जो कि 3.4 एकड़ भूमि में फैली है. अडानी को 265 करोड़ रुपए का एडवांस भुगतान करना पड़ा था और बाकी के 135 करोड़ रुपया अन्य खर्च के रूप में हैं. इससे संपत्ति का मूल्य 400 करोड़ रुपया हो गया. अडानी का गुड़गांव में एक बंगला भी है. इतना ही नहीं अहमदाबाद में उनका एक घर ‘हवेली’ है. यह वह जगह है जहां अडानी ज्यादातर समय रहते हैं. इस हवेली के बारे में अधिक जानकारी उपलब्ध नहीं है क्योंकि गौतम अडानी अपनी संपत्ति और निजी संपत्ति पर गोपनीयता बनाए रखना ज्यादा पसंद हैं. हवेली को चारों ओर बड़े पेड़ों से सजाया है. यह खुले सुंदर प्रांगणों से भी घिरी हुई है. इस घर में गौतम अडानी अपनी पत्नी प्रीति अडानी, बेटे करण और जीत अडानी और बहू के साथ रहते हैं.

ये है प्राइवेट जेट 
अडानी के पास लग्जरी प्राइवेट जेट्स, लग्जरी कारों और हेलीकॉप्टर है जिनकी एक लंबी लिस्ट हैं. अडानी ज्यादातर अपने प्राइवेट जेट से ट्रैवल करते हैं. इसमें बॉम्बार्डियर, एक बीचक्राफ्ट और एक हॉकर शामिल हैं. उनके सबसे सस्ते प्राइवेट जेट की कीमत भारत में लगभग 15.2 करोड़ है. 3 आलीशान जेट विमानों के अलावा, अडानी एंटरप्राइज के मालिक के पास अपनी छोटी यात्राओं के लिए 3 हेलीकॉप्टर हैं. उन्हें अपने अगस्ता वेस्टलैंड AW139 हेलीकॉप्टर में सबसे ज्यादा देखा जाता है.

ये है लग्जरी कारे 
अडानी के लग्जरी कारों की सूची भी काफी लंबी है. 3.5 करोड़ रुपया की रेड फेरारी और शानदार बीएमडब्ल्यू-7 जिसकी कीमत लगभग 1-3 करोड़ रुपए की कारें हैं.

17 पानी के जहाज 
अडानी एंटरप्राइज के पास आज ईंधन और अन्य सामग्रियों के परिवहन को सुनिश्चित करने के लिए लगभग 17 जहाज हैं. 2018 में गौतम अडानी ने अपने दो नए खरीदे गए जहाजों का नाम अपनी भतीजी के नाम पर रखा. दो जहाजों, एम/डब्ल्यू वंशी और एम/डब्ल्यू राही का निर्माण दक्षिण कोरिया के हांजिन हेवी इंडस्ट्रीज एंड कंस्ट्रक्शन कॉर्पोरेशन द्वारा किया था.

एयरपोर्ट्स 
देश में गौतम अडानी कुल 7 हवाई अड्डों के मालिक हैं, जिसे सरकार ने प्राइवेट कंपनियों को लीज पर दिया है. अडानी एंटरप्राइज लिमिटेड की मुंबई, अहमदाबाद, जयपुर, लखनऊ, गुवाहाटी, तिरुवनंतपुरम और मंगलुरु हवाई अड्डों में हिस्सेदारी है.

कोयले की खान
अडानी ऑस्ट्रेलिया की सबसे बड़ी कोयला खदानों में से एक कारमाइकल खदान का मालिक हैं. ऑस्ट्रेलियाई कोयला खदान अगले 3 दशकों तक सालाना दर से 1 करोड़ टन थर्मल कोयले का आयात कर सकती है.

अडानी के पास 13 पोर्ट्स
अडानी पोर्ट्स कंपनी के पास पूरे भारत में कुल 13 पोर्ट हैं. इससे इसकी पोर्ट ऑपरेटिंग कंपनी, अडानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक ज़ोन लिमिटेड (APSEZ Ltd.), भारत की सबसे बड़ी निजी पोर्ट ऑपरेटिंग कंपनी है. कंपनी के पास एबोट प्वाइंट टर्मिनल पोर्ट है, जिसे 2011 में क्वींसलैंड सरकार से 99 साल की लीज पर हासिल किया था.

ये भी पढ़ें-

PPF Account: PPF खाते से पैसा निकालने के क्‍या हैं नियम, टैक्स बेनिफिट के लिए करें ये उपाए!

NPS Pension: 10 हजार रुपए हर महीने करें निवेश, 1.5 लाख रुपया मिलेगी पेंशन



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.