खड़े होकर पीते हैं पानी तो आज ही बदल डालें आदत, हो सकता है नुकसान


Don’t Drink Water While Standing: पानी हमारे शरीर के लिए बेहद ही ज़रूरी है, और प्यास बुझाने के लिए पानी से अच्छा कोई दूसरा ऑप्शन नहीं है. विशेषज्ञ भी अच्छी सेहत के लिए दिनभर में कम से कम 8 से 10 गिलास पानी पीने की सलाह देते हैं, लेकिन केवल इतना पानी पीना ही काफी नहीं है, बल्कि हम पानी कैसे पीते हैं यह भी बेहद जरूरी है. अधिकांश लोग खड़े होकर ही पानी पीते हैं.

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी और जल्दबाजी में लोग खड़े-खड़े पानी पीते हैं या फिर सीधे बोतल से ही मुंह लगाकर पानी पी जाते हैं, लेकिन खड़े होकर पानी पीने से हम कहीं न कहीं कई बीमारियों को न्यौता देते हैं. यह स्थिति सेहत के लिए काफी नुकसानदायक हो सकती है. इसलिए बेहतर है कि, आप इस आदत को आज ही छोड़ दें. आइए आपको बताते हैं खड़े होकर पानी पीने से आपको किन बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है.

ऑक्सीजन सप्लाई पर पड़ता है असर

जब भी हम खड़े होकर पानी पीते हैं तो शरीर को जो जरूरी पोषण मिलना चाहिए था, वह नहीं मिल पाता है. इसके अलावा फूड और विंड पाइप में होने वाली ऑक्सीजन सप्लाई रुक जाती है. इसका बुरा असर न सिर्फ फेफड़ों पर बल्कि दिल पर भी पड़ता है. वहीं खड़े होकर पानी पीने से पेट में पानी की मात्रा अधिक हो जाती है, जिससे पेट के निचले हिस्से की दीवारों पर दबाव बनता है और ऐसी स्थिति में लोग हर्निया का शिकार हो जाते हैं.

तनाव बढ़ता है

खड़े होकर पानी पीने से आपका तनाव भी बढ़ता है. भले ही आपको यकीन न हो, लेकिन तनाव बढ़ने के पीछे यह आदत भी एक मुख्य कारण हैं. एक्सपर्ट्स के मुताबिक खड़े होकर पानी पीने का सीधा असर तंत्रिका तंत्र पर पड़ता है और इस स्थिति में पोषक तत्व पूरी तरह से बेकार हो जाते हैं. यही वजह है कि, इस आदत की वजह से शरीर को तनाव का सामना करना पड़ता है.

जोड़ों में दर्द का भी है कारण

कई बार आपने बड़े-बुजुर्गों से सुना होगा कि, खड़े होकर पानी पीने से घुटनों में दर्द होता है. यह बात बिल्कुल सही है. खड़े होकर पानी पीने से घुटनों पर दबाव पड़ता है, जिसके चलते अर्थराइटिस की समस्या का सामना करना पड़ सकता है.

गठिया की समस्या

खड़े होकर पानी पीने से आप गठिया रोग के भी शिकार हो सकते हैं. दरअसल खड़े होकर पानी पीने के कारण पानी का बहाव तेजी से आपकी बॉडी से होकर जोड़ों में जमा हो जाता है और हड्डियों और जोड़ों के लिए खतरा पैदा हो जाता है. इसकी वजह से हड्डियों के जोड़ वाले हिस्से में तरल पदार्थ की कमी हो जाती है और जोड़ों में दर्द के साथ हड्डियां कमजोर होने लगती है. जिसके चलते लोगों को गठिया जैसी बीमारी का सामना करना पड़ता है.

किडनी पर असर

खड़े होकर पानी पीने की यह आदत का सीधा असर आपकी किडनी पर भी हो सकता है. जब भी कोई व्यक्ति खड़े होकर पानी पीता है तो पानी बिना फिल्टर हुए ही तेज़ी से निचले पेट की तरफ बढ़ता है, और पानी की अशुद्धियों को पित्ताशय में जमा कर देता है. यह स्थिति किडनी के लिए बहुत ही हानिकारक है.

ये भी पढ़ें- 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *