क्रिकेटर मोहम्मद शमी को कट्टरपंथियों ने कहा इस्लाम विरोधी, आखिर गेंदबाज ने कौन सी कर दी धर्म विरोधी गलती?


क्रिकेटर मोहम्मद शमी ने सोशल मीडिया अकाउंट पर भगवान राम का रावण को तीर मारने वाली एक एनिमेशन तस्वीर शेयर करते हुए लिखा-सभी को दशहरे की शुभकामनाएं। हालाँकि इस्लामवादियों को मोहम्मद शमी का ऐसा करना पसंद नहीं आया और उन्होंने शमी को हिंदू त्योहार मनाने के कारण खूब ट्रोल किया।

बुराई पर सच्चाई की जीत का प्रतिनिधित्व करने वाला हिंदू त्योहार ‘दशहरा’ पूरे देश में बहुत भव्यता और भक्ति के साथ मनाया गया। भारत एक ऐसा देश हैं जहां हर धर्म, समुदाय, जाति अलग-अलग भाषा बोलने वाले लोग हैं। यहां सभी लोग मिल कर ईद भी मनाते हैं और दशहरा भी। पिछले काफी समय से देश की शांति और एकता को सोशल मीडिया के माध्यम से भंग करने की कोशिश की जा रही हैं। लोगों को उनकी अभिव्यक्ति पर ट्रोल किया जाता हैं। हाल ही में एक ऐसा उदाहरण तब सामने आया जब भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाद मोहम्मद शमी ने सोशल मीडिया के माध्यम से अपने सभी फैंस को दशहरे की शुभकामनाएं दी। क्रिकेटर मोहम्मद शमी ने सोशल मीडिया अकाउंट पर भगवान राम का रावण को तीर मारने वाली एक एनिमेशन तस्वीर शेयर करते हुए लिखा-सभी को दशहरे की शुभकामनाएं। हालाँकि इस्लामवादियों को मोहम्मद शमी का ऐसा करना पसंद नहीं आया और उन्होंने शमी को हिंदू त्योहार मनाने के कारण खूब ट्रोल किया। कट्टरपंथियों ने शामी पर आरोप लगाया कि वह अपने करियर के कारण अपने धर्म के खिलाफ जा रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें: थाईलैंड में हुई मास शूटिंग, बच्चों सहित 32 लोगों को बंदूकधारी ने उतारा मौत के घाट, आखिर में खुद को मारी गोली

बुधवार को मोहम्मद शमी ने भगवान राम की रावण का वध करते हुए एक तस्वीर साझा की और लोगों को दशहरे की शुभकामनाएं दीं। उन्होंने ट्वीट किया “दशहरे के शुभ अवसर पर, मैं प्रार्थना करता हूं कि भगवान राम आपके जीवन को ढेर सारी समृद्धि, सफलता और खुशियों से भर दें। आपको और आपके परिवार को दशहरे की बहुत-बहुत शुभकामनाएं”।

इसे भी पढ़ें: अमेरिका: अपहृत सिख परिवार के चारों सदस्यों के मिले शव, अपहरण का वीडियो वायरल

इस्लामवादी नेटिज़न्स ने शमी द्वारा साझा की गई पोस्ट को पसंद नहीं किया और उन्हें अपने धर्म के खिलाफ जाने के लिए ट्रोल किया। कट्टरपंथी नेटिज़न्स ने भी उन्हें इस्लाम के बारे में बताया और संकेत दिया कि दशहरे पर शुभकामनाएँ साझा करना मुसलमानों के लिए पाप था। अकील भट्टी नाम के एक ट्विटर यूजर ने शमी की पोस्ट पर कमेंट किया और कहा, ‘शर्म करो शमी। क्या आप मुसलमान हैं?”।

शमी पिछले काफी समय से भारतीय क्रिकेट टीम का हिस्सा नहीं हैं और टी20 वर्ल्ड कप के बीच चर्चा में हैं। भारतीय क्रिकेट टीम के चयनकर्ता इस मेगा टूर्नामेंट के लिए तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को मोहम्मद शमी के साथ बदलने के बारे में सोच रहे हैं, बशर्ते कि शामी COVID-19 के प्रभाव से पूरी तरह से उबर गये हो। बुमराह स्ट्रेस फ्रैक्चर के कारण ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 विश्व कप से बाहर हो गए हैं और उन्हें ठीक होने में कई महीने लग सकते हैं।

क्रिकेटर को फटकार लगाते हुए, 5 सितंबर को महिला इस्लामवादियों में से एक ने पूछा कि क्या किसी हिंदू क्रिकेटर ने पहले इस्लामिक अवसर या ईसाई अवसर पर कामना की थी। तुम्हे शर्म आनी चाहिए। क्या आप भगवान राम के आस्तिक हैं?”





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *