क्या है ‘हैदराबाद मुक्ति दिवस’ बनाम ‘तेलंगाना एकता दिवस’? जो बन गया KCR vs अमित शाह का कार्यक्रम


क्या है 'हैदराबाद मुक्ति दिवस' बनाम 'तेलंगाना एकता दिवस'? जो बन गया KCR vs अमित शाह का कार्यक्रम

हैदराबाद:

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ‘हैदराबाद मुक्ति दिवस’ के 75 साल पूरे होने के अवसर पर वर्षभर चलने वाले जश्न का उद्घाटन किया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के अवसर पर एक सेवा कार्यक्रम में भी शामिल होंगे. केंद्र ने ‘हैदराबाद मुक्ति दिवस’ के 75 साल पूरे होने पर सालभर कार्यक्रम आयोजित करने की योजना बनाई है.

यह भी पढ़ें

वहीं, राज्य सरकार ने निजाम शासन में पूर्ववर्ती हैदराबाद रजवाड़े का भारतीय संघ में 17 सितंबर, 1948 को किये गये विलय की याद में शुक्रवार से तीन दिन के लिए ‘तेलंगाना राष्ट्रीय एकीकरण दिवस हीरक जयंती समारोह’ मनाने का निर्णय लिया है. मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव एक कार्यक्रम में राष्ट्रध्वज फहरायेंगे और सलामी लेंगे. राज्य के मंत्री शनिवार को सभी जिला मुख्यालयों में ध्वजारोहण करेंगे.

केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री जी किशन रेड्डी ने इस महीने की शुरुआत में तेलंगाना, कर्नाटक और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखकर उन्हें हैदराबाद परेड मैदान में आयोजित होने वाले उद्घाटन समारोह में आमंत्रित किया था.

रेड्डी ने तीनों मुख्यमंत्रियों- के. चंद्रशेखर राव (तेलंगाना), बसवराज बोम्मई (कर्नाटक) और एकनाथ शिंदे (महाराष्ट्र) से यह भी अनुरोध किया कि वे अपने राज्यों में उद्घाटन दिवस मनाने के लिए उचित कार्यक्रम आयोजित करें.

हैदराबाद राज्य निजाम शासन के अधीन था और पुलिस ने भारत में इसका विलय कराने के लिए ‘ऑपरेशन पोलो’ नाम से अभियान चलाया था, जो 17 सितंबर 1948 को समाप्त हुआ था.

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने जारी एक विज्ञप्ति में बताया कि शाह तेलंगाना में भाजपा के प्रमुख नेताओं के साथ एक बैठक भी करेंगे. इसके बाद, वह मोदी के जन्मदिन के अवसर पर शहर में आयोजित एक कार्यक्रम में दिव्यांगजन को सहायता सामग्री, उपकरण एवं अन्य वस्तुएं नि:शुल्क वितरित करेंगे.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.