एक से ज्यादा हेल्थ इंश्योरेंस होने पर आप कैसे ले सकते हैं क्लेम, इन बातों का रखें ध्यान


Mediclaim Policy Rules: देश में कोविड महामारी (Covid Pandemic) के लगातार बढ़ते संक्रमण (Corona Infection) को देखते हुए लोगों ने एक से अधिक हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी (Health Insurance Policy) करा लिए है. हर दूसरे-तीसरे आदमी को डर है कि अगर उसे कुछ हो गया तो उसके बाद परिवार का गुजारा कैसे होगा? कौन उन्हें मदद करेगा? इस कारण लोग मल्टीपल हेल्थ इंश्योरेंस (Multiple Health Insurance Policies) की ओर रुख कर रहे हैं. इस महंगाई में हेल्थ प्रॉब्लम (Health Problem) से उपजी परेशानियों और महंगे इलाज से खुद को और प्रियजनों को आर्थिक नुकसान से बचाया जा सके.

Health Insurance Claim

मल्टीपल हेल्थ इंश्योरेंस कवरेज (Multiple Health Insurance Coverage) में मेडिकल क्लेम (Medical Insurance Claim) लेना आसान है. आप एक से अधिक क्लेम फाइल करके अधिक लाभ ले सकते है. ये काम आपको करने होंगे.

  • बीमाकर्ता से क्लेम सेटलमेंट (Claim Settlement) के लिए डिस्चार्ज समरी लेनी पड़ती है और फिर उसे अस्पताल के बिल की अटेस्टेड कॉपी के साथ दूसरे बीमाकर्ता को जमा करना होता है.
  • क्लेम को रीइमबरस्मेंट (Reimbursement) में बीमाधारक को खुद से बिल पे करना होगा जिसे दूसरी बीमा कंपनी एक निश्चित समय के भीतर बाद में रीइंबर्स करेगी. यदि वह अस्पताल दोनों बीमा कंपनियों के नेटवर्क में हैं तो दावेदार के आग्रह पर दोनों बीमाकर्ताओं से कैशलेस को मंजूरी दी जा सकती है.

कैशलेस को समझे

कई वेतन भोगी कर्मचारियों की कम से कम दो हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसियां होती हैं. एक इम्पलायर का और दूसरा उनका व्यक्तिगत हेल्थ इंश्योरेंस कवर. ऐसे मामलों में, या जिन्होंने खुद से 2 पॉलिसियां ले रखी हैं, वह किसी भी नेटवर्क वाले कैशलेस अस्पताल में भर्ती हो सकता है और किसी भी बीमा कंपनी के साथ क्लेम फाइल कर सकता है.

अस्पतालों के लिए रिम्बर्समेंट

हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसियों में से किसी एक के लिए नॉन-नेटवर्क (Non-Network) अस्पताल में भर्ती होने के मामले में, बीमाधारक को सभी बिलों को सीधे अस्पताल को देने पड़ते है. फिर क्लेम प्रक्रिया के तहत सभी Lab Reports, X-ray Film and Slides, Bills, Receipts और अस्पताल से मिली Discharge Summary सहित सभी दस्तावेजों की सत्यापित प्रतियों के साथ एक क्लेम फॉर्म जमा करना होता है.

कैसे ले क्लेम

किसी सर्जरी या बीमारी के लिए अस्पताल में भर्ती होने के बाद उपचार या पोस्ट-हॉस्पिटलाइजेशन थेरेपी (Hospitalization Therapy) मिलती है. यह आपके लिए अतिरिक्त खर्च है. डिस्चार्ज के बाद ऐसे खर्च जिनमें Medications, Follow-up Consultation Visits and Diagnostic Tests शामिल हैं, डिस्चार्ज की तारीख से 60 दिनों तक कवर किए जाते हैं. हालाँकि इसमें फिजियोथेरेपी (Physiotherapy) या एक्यूपंक्चर (Acupuncture) जैसे कुछ उपचारों को कवर नहीं मिलता है.

यह भी पढ़े:

Walmart LAYOFF: Walmart ने अपने 200 कर्मचारियों को नौकरी से निकाला, देखें क्या है वजह

e-Shram Card Payment Status: ई-श्रम खाते में अब तक नहीं आया पैसा, ऐसे चेक करें अपना पेमेंट



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.