उमा भारती का MP में शराबबंदी के लिए जारी अल्टीमेटम BJP आलाकमान के लिए एक संदेश है


भाजपा नेता उमा भारती की फाइल फोटो | Photo: ANI


Text Size:

नई दिल्ली: मध्य प्रदेश की राजनीति में फिर से वापसी की कोशिश में जुटी पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने राज्य में पूरी तरह शराबबंदी लागू करने को लेकर शिवराज सिंह चौहान सरकार को जनवरी तक का अल्टीमेटम दे दिया है. भाजपा नेता ने चेताया है कि अगर तय समयसीमा में ये मांग पूरी नहीं हुई तो वह आंदोलन शुरू कर देंगी.

पिछले हफ्ते पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि अगर मध्य प्रदेश सरकार कोई कदम उठाने में नाकाम रहती है तो शराबबंदी लागू कराने के लिए महिलाएं ‘लट्ठ’ उठा सकती हैं.

यह पहला मौका नहीं है जब उमा भारती ने शराबबंदी के मुद्दे पर शिवराज सरकार को बैकफुट पर लाने के लिए आंदोलन की धमकी दी है.

उमा भारती ने रविवार को ट्वीट किया कि शराबबंदी को लेकर उनका अभियान—जिसकी घोषणा इस साल अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (8 मार्च) को की गई थी—कोविड के कारण शुरू नहीं हो पाया. लेकिन सब कुछ ठीकठाक रहा तो अब पांच महीने के लिए जन जागरूकता अभियान चलाया जाएगा.

उन्होंने आगे कहा, ‘तब तक मेरी गंगा यात्रा पूरी हो जाएगी. फिर 15 से 20 जनवरी, 2022 के बीच मैं स्थिति की समीक्षा करूंगी. मुझे उम्मीद है कि मध्यप्रदेश सरकार तब तक राज्य में शराबबंदी पर फैसला ले लेगी. नहीं तो फिर महिलाएं शराबबंदी के लिए सड़कों पर उतरेंगी. और मैं भी उनके साथ शामिल हो जाऊंगी.’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें